ENGLISH HINDI Friday, May 29, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
राष्ट्रीय

नशा छुड़ाओ और मनोरोग चिकित्सा विंग कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल में शिफ्ट, वहीं मिलेगा इलाज

May 10, 2020 07:05 PM

फिरोजपुर, मनीष: सिविल अस्पताल के नशा छुड़ाओ और मनोरोग चिकित्सा के विंग को कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है। 11 मई 2020 को सुबह 8 बजे से सिविल अस्पताल के नशा छुड़ाओ केंद्र, ओट्स क्लीनिक, ओएसटी विंग और मनोरोग चिकित्सा विंग से संबंधित सारी सेवाएं अब कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल पर ही उपलब्ध होंगी। 

विस्तृत जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डॉ. नवदीप सिंह ने बताया कि डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर श्री कुलवंत सिंह के निर्देश पर यह बदलाव किया गया है। कोरोना वायरस के मद्देनजर सिविल अस्पताल में क्राउड मैनेजमेंट को लेकर यह कदम उठाया गया है ताकि अस्पताल में आने वाले दूसरे लोगों का एक अलग जगह पर इलाज किया जा सके।   

कोरोना वायरस के मद्देनजर सिविल अस्पताल में क्राउड मैनेजमेंट को लेकर लिया फैसला

 


सिविल सर्जन ने बताया कि यह सभी विंग सिविल अस्पताल के स्टाफ समेत कैंटोनमेंड बोर्ड के अस्पताल में शिफ्ट किए जा चुके हैं और इन विंग्स से संबंधित इलाज करवाने वाले मरीजों को सोमवार सुबह 8 बजे से इलाज के कैंटोनमैंट बोर्ड के अस्पताल में जाना होगा। इन सभी विंग्स से संबंधित किसी भी मरीज को अब सिविल अस्पताल में नहीं देखा जाएगा। अगले आदेशों तक कैंटोनमेंट बोर्ड के अस्पताल में ही ये सभी सेवाएं मिलती रहेंगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और राष्ट्रीय ख़बरें
सैनिक की गर्भवती पत्नी कोरोना पॉजिटिव, अम्बाला के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती सीआईपीईटी केंद्रों ने कोरोना से निपटने के लिए सुरक्षात्मक उपकरण के रूप में फेस शील्ड विकसित किया एन.एस.यू.आई. ने छात्रों को एक-बार छूट देकर उत्तीर्ण करने का किया आग्रह एम्स ऋषिकेश में कोविड पॉजिटिव चार अन्य मामले सामने आए एम्स ऋषिकेश में कोविड पॉजिटिव के पांच नए मामले सामने आए उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित लोगों का आंकड़ा 317 पहुंचा, सभी 13 जिले ऑरेंज जोन में चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ के बाद बंगाल में एनडीआरएफ की 10 अतिरिक्त टीमें तैनात की गई "जैव विविधता भारतीय संस्कृति का अनिवार्य हिस्सा है": शेखावत कोविड—19 परीक्षण में 9 पॉजिटिव जीवन चलाने के लिए जीवन को ही दांव पर लगा दिया गया