ENGLISH HINDI Saturday, June 06, 2020
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

क्वारंटीन की उल्लंघना पर दो के खिलाफ एफआईआर

May 12, 2020 04:36 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा जिला में कोरोना पॉजिटिव के कुल पांच एक्टिव केस हो गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए लोगों की पहचान की जा रही है तथा उनके भी सेंपल लिए जाएंगे।
16 सेंपल की रिपोर्ट नेगेटिव
उपायुक्त ने कहा कि कांगड़ा जिला के 16 सेंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। उन्होंने कहा कि जिला कांगड़ा में लॉकडाउन के माध्यम से सामाजिक दूरी की अनुपालना सुनिश्चित की जा रही है तथा इस बारे में लोगों को जागरूक भी किया गया है। उन्होंने कहा कि लोगों को किसी तरह की असुविधा नहीं हो इस के लिए हेल्पलाइन नंबर भी समय समय पर जारी किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी नागरिकों को स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों की अनुपालना सुनिश्चित करनी चाहिए इसके साथ ही अपने गांव या परिवार में बाहरी क्षेत्रों से आने वाले व्यक्तियों के बारे में तुरंत प्रशासन को सूचित करना चाहिए ताकि समाज को सुरक्षित रखा जा सके और कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। उपायुक्त ने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि घरों से बेवजह बाहर नहीं निकलें तथा लॉकडाउन का पूरा अनुपालन सुनिश्चित करें।
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कांगड़ा जिला के खुंडियां के चिल्लागा तथा बडोह के अप्पर सरूट में होम क्वारंटीन की अवहेलना करने पर दो के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि बाहरी राज्यों या क्षेत्रों से आए हुए नागरिकों को निर्देश दिए गए हैं कि 28 दिनों तक अपने घरों में रहें तथा सामाजिक दूरी की पूरी अनुपालना सुनिश्चित करें। इन निर्देशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने का प्रावधान भी किया गया है।
कंटेनमेंट जोन में होम डिलीवरी होगी सुनिश्चित:
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में आवश्यक वस्तुओं की होम डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी तथा इसके लिए संबंधित उपमंडलाधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि होम डिलीवरी के दौरान भी कोविड-19 प्रोटोकॉल की अनुपालना सुनिश्चित की जाएगी, सभी हो मास्क पहनाना जरूरी होगा। इसके साथ ही इन क्षेत्रों में रहने वाले सभी लोगों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना भी अनिवार्य किया गया है ताकि आसपास के क्षेत्रों में कोरोना सक्रंमितों के बारे में जानकारी हासिल हो सके।
जिला में आवश्यक खाद्य वस्तुओं की आपूर्ति:
उपायुक्त राकेश प्रजापति ने बताया कि कांगड़ा जिला में 04 गाड़ियां ब्रेड की, 354 सब्जियों के वाहन, दूध के 66 वाहन तथा 20 गाड़ियां रसोई गैस की, अनाज की 56 गाड़ियों तथा मेडिसन की 17 वाहनों के माध्यम से आपूर्ति की गई है। उन्होंने कहा कि खाद्य निगम के गोदामों में राशन का आवश्यक स्टाक उपलब्ध है अतः किसी भी उपभोक्ता को दैनिक आवश्यकता की वस्तुओं की खरीद के लिए हड़बड़ी करने की जरूरत नहीं है तथा किसी भी स्तर पर घरों में राशन का भंडारण भी नहीं किया जाए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें