ENGLISH HINDI Tuesday, May 26, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
चंडीगढ़ समूह गुरुद्वारा प्रबंधक संगठन की बैठक में लंगर सेवा का मौका देने के लिए प्रशासन का जताया आभारवैश्विक कोरोना संकट होने के बावजूद लोग नहीं ले रहे सबकपुलिस और मनोचिकित्सक करेंगे घरेलू हिंसा से प्रभावित महिलाओं की समस्याओं का हल45 पुलिस अधिकारियों के तबादलेहॉकी स्टार पद्म श्री बलबीर सिंह सीनियर का पूरे राजकीय सम्मान सहित अंतिम संस्कारपंजाब में आपातकालीन चिकित्सा ई-पास एक भ्रम: क्या कोई कार्रवाई करेगा?गुरुद्वारा नानकसर साहिब के बाबा जी ने रविन्द्र सिंह बिल्ला और उनकी टीम को सिरोपा पहना किया सम्मानिततपा के डेरा संचालक महंत हुक्म दास बबली की संदेहास्पद मौत
हिमाचल प्रदेश

हैदराबाद से विशेष ट्रेन से पठानकोट पहुंचे 118 हिमाचली

May 21, 2020 06:21 PM

धर्मशाला, (विजयेन्दर शर्मा) लॉकडाउन के बीच दूसरे राज्यों में फंसे लोगों की घर वापिसी का सिलसिला लगातार जारी है। तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद से आज एक विशेष ट्रेन दोपहर एक बजे 118 हिमाचलियों को लेकर पठानकोट रेलवे स्टेशन पर पहुंची। जहां पर एसडीएम डॉ सुरेन्द्र ठाकुर, नायब तहसीलदार देस राज ठाकुर सहित उपस्थित अन्य नोडल अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। यह ट्रेन सोमवार को रात 10 बजे हैदराबाद से रवाना हुई थी।
गौरतलब है कि गत सोमवार को भी एक विशेष ट्रेन 259 हिमाचलियों को लेकर चेन्नई से पठानकोट पहुंची थी।
जानकारी देते हुए एसडीएम सुरेंद्र ठाकुर ने बताया कि इन सभी लोगों को एचआरटीसी की सात विशेष बसों के द्वारा अपने-अपने जिलों में बनाए गए संस्थागत क्वारन्टीन केंद्रों के लिए भेजा गया है।
उन्होंने बताया कि कांगड़ा ज़िला के यात्रियों को प्रशासन द्वारा कोटला में बनाए गए संस्थागत क्वारन्टीन केंद्र में भेजा गया है, जबकि अन्य जिलों के यात्रियों को उनके जिलों में बनाए गए संस्थागत क्वारन्टीन केंद्रों में रखा जाएगा, जहां पर प्रशासन द्वारा इनके ठहरने खान-पान की विशेष व्यवस्था की गई है।
उन्होंने बताया कि इस ट्रेन से कांगड़ा ज़िला के 37, मंडी के 19, शिमला व हमीरपुर ज़िला के 10-10, ऊना व सिरमौर के 7-7, कुल्लू व चंबा के 9-9, बिलासपुर के 6, जबकि सोलन जिला के 4 यात्री पहुंचे।
हैदराबाद में टूरिज्म व्यवसाय में एचएम के तौर पर काम करने वाले मंडी ज़िला के निवासी विक्की रावत जो अपनी पत्नी सपना व 4 वर्षीय बेटे पर्व रावत के साथ पठानकोट रेलवे स्टेशन पहुंचे। उन्होंने बताया कि उन्हें कभी नहीं लगता था कि लॉकडाउन के बीच वे अपने-अपने घरों में वापस पहुंच पाएंगे। इसी ट्रेन में मंडी ज़िला के यात्री गोपाल ठाकुर पत्नी हंसा ठाकुर तथा बेटे कार्तिक के साथ पहुंचे तो उन्होंने बताया कि हमारे परिवार ने अपने घर पहुंचने की उम्मीद ही छोड़ दी थी, परंतु हिमाचल प्रदेश सरकार के प्रयासों से उनका घर पहुंचने का सपना पूरा हुआ है।
शिमला ज़िला के ठियोग की प्रिंयका, इसी ज़िला के चिड़गाव तहसील के संजय, चंबा ज़िला के तीसा के छिन्दों खान के चेहरों पर देवभूमि में पहुंचने की खुशी साफ झलक रही थी। वहीं बैजनाथ तहसील के कल्याण सिंह ने अपनी पत्नी हिमा तथा बेटे सूरज के साथ पहुंचने पर बताया कि घर वापिस लौटकर बेहद खुशी हो रही है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
बचाव ही कोरोना से बचने की सबसे उत्तम दवा कोरोना संक्रमण के खिलाफ डटे स्वच्छता योद्धा मुख्यमंत्री एक बीघा योजना का शुभारम्भ डाॅक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ व पुलिस कर्मियों को सभी सुरक्षात्मक उपकरण प्रदान करने के निर्देश राज्यपाल ने दिया अनुसंधान और प्रौद्योगिकी पर आधारित जैव विविधता के दोहन पर बल विघटनकारी शक्तियों के विरूद्ध एकजुट होने का आह्वान संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर में लिए गए कोविड-19 के सैंपल चुवाड़ी के एक नागरिक का सेंपल पॉजिटिव लॉकडाउन-4: कर्फ्यू में ढील प्रातः सात से दोपहर दो बजे तक: डीसी योगी सरकार की कार्यप्रणाली से सिद्ध हो गया कि भाजपा का एजेंडा हर मुद्दे पर निम्नस्तर की राजनीति करना : प्रेम कौशल