ENGLISH HINDI Tuesday, May 26, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
चंडीगढ़ समूह गुरुद्वारा प्रबंधक संगठन की बैठक में लंगर सेवा का मौका देने के लिए प्रशासन का जताया आभारवैश्विक कोरोना संकट होने के बावजूद लोग नहीं ले रहे सबकपुलिस और मनोचिकित्सक करेंगे घरेलू हिंसा से प्रभावित महिलाओं की समस्याओं का हल45 पुलिस अधिकारियों के तबादलेहॉकी स्टार पद्म श्री बलबीर सिंह सीनियर का पूरे राजकीय सम्मान सहित अंतिम संस्कारपंजाब में आपातकालीन चिकित्सा ई-पास एक भ्रम: क्या कोई कार्रवाई करेगा?गुरुद्वारा नानकसर साहिब के बाबा जी ने रविन्द्र सिंह बिल्ला और उनकी टीम को सिरोपा पहना किया सम्मानिततपा के डेरा संचालक महंत हुक्म दास बबली की संदेहास्पद मौत
चंडीगढ़

जनहित याचिका: लॉकडाउन में स्कूलों द्वारा फीस वसूलने को हाईकोर्ट में चुनौती

May 22, 2020 01:14 PM

चंडीगढ, फेस2न्यूज:
लॉकडाउन पीरियड में प्राइवेट स्कूलों द्वारा फीस वसूले जाने के फैसले को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है। वकील पंकज चांदगोठिया की तरफ से दायर जनहित याचिका में कहा गया कि 23 मार्च-2020 से चंडीगढ़ समेत देशभर में कर्फ्यू और लॉकडाउन की स्थिति है। ऐसे में शिक्षण गतिविधियां ठप हैं। इन परिस्थितियों में कुछ स्कूल महज फीस वसूलने के अपने पक्ष को सही साबित करने के लिए ऑनलाइन क्लास रूम की व्यवस्था कर रहे हैं।   

वकील पंकज चांदगोठिया की तरफ से दायर याचिका में कहा गया कि 23 मार्च 2020 से चंडीगढ़ समेत देशभर में कर्फ्यू और लॉकडाउन की स्थिति है। ऐसे में शिक्षण गतिविधियां ठप हैं। इन परिस्थितियों में कुछ स्कूल महज फीस वसूलने के अपने पक्ष को सही साबित करने के लिए ऑनलाइन क्लास रूम की व्यवस्था कर रहे हैं।


स्कूली बच्चे ऑनलाइन शिक्षण व्यवस्था के अचानक लागू होने से पढ़ने में सहज भी नहीं है। बावजूद इसके प्राइवेट स्कूलों की तरफ से चंडीगढ़ प्रशासन के शिक्षा विभाग के साथ बैठक कर 31 मई तक स्कूल फीस वसूलने का फैसला लिया गया है। इस संबंध में इंडिपेंडेंट स्कूल एसोसिएशन की तरफ से हाईकोर्ट में याचिका भी दायर की गई है, जिस पर शुक्रवार को सुनवाई होनी है। हाईकोर्ट की सिंगल बेंच ने इस याचिका पर सुनवाई करते हुए चंडीगढ़ प्रशासन के शिक्षा विभाग से जवाब मांगते हुए कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि मामले की अगली सुनवाई तक बैठक कर स्कूलों का पक्ष जानने के बाद इस मामले में कोई फैसला ले लिया जाएगा।
इसके बाद चंडीगढ़ प्रशासन ने प्राइवेट स्कूलों के दबाव ने 31 मई तक अभिभावकों को फीस का भुगतान करने पर सहमति दे दी। याचिका में कहा गया कि बहुत से अभिभावक ऐसे हैं, जिन्होंने लॉकडाउन अवधि के दौरान बहुत ज्यादा आर्थिक परेशानी का सामना किया है। दूसरी तरफ शहर के कई प्राइवेट स्कूल बड़े-बड़े कॉरपोरेट हाउस द्वारा संचालित किए जा रहे हैं। इन स्कूलों द्वारा 15 मार्च तक नए दाखिले कर पूरी फीस वसूली गई है। ऐसे में स्कूल पहले ही बड़ा हिस्सा अभिभावकों से वसूल चुके हैं। ऐसे में लॉकडाउन अवधि के दौरान ही 31 मई तक फीस का भुगतान करने का फैसला मनमाना और अवैध है, जिसे खारिज किया जाए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
ट्रांसपोर्टर्स ने समाजसेवियों को किया सम्मानित चंडीगढ़ समूह गुरुद्वारा प्रबंधक संगठन की बैठक में लंगर सेवा का मौका देने के लिए प्रशासन का जताया आभार गुरुद्वारा नानकसर साहिब के बाबा जी ने रविन्द्र सिंह बिल्ला और उनकी टीम को सिरोपा पहना किया सम्मानित चंडीगढ: डडूमाजरा में कोरोना का पॉजिटिव मिलने पर हड़कंप प्रकृति पर आधारित कलम रस्किन बांड से प्रेरित चंडीगढ़ के सैक्टर 30 करोना कंटेनमेंट जोन में मौत के बाद हंगामा बच्चों में बाँटे कलरफुल औऱ कार्टून करैक्टर वाले मनभावन मास्क समाजसेवी रविन्द्र सिंह और इंस्पेक्टर पूनम दिलावरी ने प्रवासी श्रमिकों को सी सी ई टी में बांटा भोजन सत्यपाल जैन पहुंचे हरे कृष्णा आश्रम : चण्डीगढ़ इस्कॉन के प्रथम अध्यक्ष से लिया आशीर्वाद वाल्मीकि समाज चेयरमैन ने सैक्टर 7 घोड़गाडी स्टैंड पर जरूरतमन्दों को सौंपी राशन किट