ENGLISH HINDI Wednesday, July 08, 2020
Follow us on
 
पंजाब

नाजायज सबंधों के चलते पत्नी ने प्रेमियों संग मिलकर पति को फेंका नहर में

May 28, 2020 03:25 PM

फिरोजपुर, (मनीष कुमार)
देश में क्राइम दिन—ब—दिन बढ़ता जा रहा है। लोग कानून से बेखौफ होकर आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। आज ज़िला फ़िरोज़पुर से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिसने पति पत्नी के पवित्र रिश्ते को प्रश्न चिह्न लगा दिए हैं। मामला है फ़िरोज़पुर छावनी की खटीक मंडी का जहाँ के रहने वाले रमेश कुमार उर्फ मुस्तफा को उसकी पत्नी ने नाजायज संबंधों के चलते अपने प्रेेमीओ संग मिलकर उसको अगवाह कराने का। इस सम्बन्धित जानकारी देते रमेश कुमार मुस्तफा के ताया के लड़के बंटी पुत्र काकु ने बताया कि रमेश कुमार उसके घर के सामने ही रहता था और उसकी पत्नी किरनदीप गोगा के जपान सिंह पुत्र निशान सिंह निवासी गाँव रुकनें बेगू और आकाश पुत्र मंगल सिंह निवासी फ़िरोज़पुर के साथ नाजायज सम्बन्ध थे। जिससे रमेश कुमार किरनदीप को रोकता था और अक्सर ही इस बात को लेकर उनके घर में झगड़ा रहता था और 21 मई की रात करीब 9 बजे जपान सिंह रमेश कुमार को शराबी हालत में किसी ज़रूरी काम का बहाना बनाकर घर से ले गया और जब वह घर वापस नहीं आया तो परिवार ने सख्ती के साथ जब रमेश कुमार की पत्नी किरनदीप को पूछा तो उसने बताया कि रमेश कुमार उस पर नाजायज संबंधों का शक करते अक्सर उसके साथ लड़ाई झगड़ा करता था, जिस, को लेकर उसने जपान सिंह और आकाश के साथ मिलकर दिल्ली पब्लिक स्कूल नज़दीक पक्की नहर में धक्का देकर ठिकाने लगा दिया है और आप ने जो करना है वह कर लीजिए। जिसके बाद उन्होंने तुरंत इस मामले के बारे में पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
डेराबस्सी में कोरोना का कहर: बेहड़ा में 33 पॉजिटिव, जवाहरपुर पुन: सुर्खियों में सिविल डिफेंस द्वारा रक्तदान शिविर 9 जुलाई को सिविल अस्पताल में पंजाब के 22 में से 18 जिले नशे की चपेट में : सांपला वेरका ने पशु खुराक के दाम 80-100 रुपए प्रति क्विंटल घटाये गांव खेड़ी गुजरां में दूषित पानी पीने से चार भैंसों की मौत का मामला, एसडीएम ने किया मौके का दौरा अस्पतालों का नाम ‘माई दौलतां जच्चा-बच्चा अस्पताल’ रखने का फैसला पंजाब में प्रवेश के लिए ई-रजिस्ट्रेशन हुआ अनिवार्य कोरोना महामारी: जागरूकता के लिए गाड़ीयों में ‘फट्टियाँ’ लगाने की मुहिम डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान: वर्तमान सैशन के सभी कोर्सों के लिए ली जाएंगी परीक्षाएं खजाने में सेंधमारी- फिर भी तरफदारी