ENGLISH HINDI Wednesday, July 08, 2020
Follow us on
 
पंजाब

अध्यापक के 12 वर्षीय गुमशुदा लड़के की वापसी के लिए उपायुक्त ने लखनऊ भेजी कार, दो महीने बाद परिवार से मिला बच्चा

May 29, 2020 07:24 PM

फिरोजपुर, मनीष कुमार:
डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर श्री कुलवंत सिंह के प्रयासों की बदौलत शुक्रवार को दो महीने बाद 12 वर्षीय लड़का अपने परिवार से मिल पाया है। यह बच्चा दो महीने पहले अपनी दादी से मिलने के लिए मालगाड़ी में बैठ गया था लेकिन बिहार पहुंचने की बजाय लखनऊ पहुंच गया। बच्चे की तालाश के लिए काफी प्रयास चल रहे थे। इस बीच लखनऊ प्रशासन की बाल भलाई कमेटी से फिरोजपुर जिला प्रशासन के पास इस बच्चे के लखनऊ होने की सूचना मिली, जिस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर श्री कुलवंत सिंह ने 27 मई को एक कार लखनऊ से बच्चे को वापस फिरोजपुर लाने के लिए रवाना की।
विस्तृत जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर कुलवंत सिंह ने बताया कि यह बच्चा अपनी दादी जोकि बिहार में रहती है, को मिलने के लिए मालगाड़ी में बैठकर चला गया था। परिवार वाले उसे ढूंढते रहे लेकिन वह लखनऊ पहुंच गया। जैसे ही प्रशासन को सूचना मिली कि बच्चा लखनऊ में सही सलामत है, उसे लाने के लिए यहां से एक गाड़ी में बाल भलाई कमेटी के मुलाजिमों को रवाना किया। कमेटी के मुलाजिम गाड़ी में बच्चो को वापस फिरोजपुर लेकर आए, जिसे डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर श्री कुलवंत सिंह ने उनके पिता के सुपुर्द किया। डिप्टी कमिश्नर ने बच्चे को चॉकलेट बॉक्स भी दिया, साथ ही उसे भविष्य में इस तरह अपने आप घर से नहीं निकलने के लिए भी समझाया। डिप्टी कमिश्नर ने सभी अभिभावकों से अपने बच्चों पर नजर बनाए रखने की अपील की ताकि इस तरह की घटनाओं से बचा जा सके।
बच्चे के पिता उदय शंकर कुमार जोकि स्थानीय स्कूल में टीचर हैं, ने डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर का इस सहायता के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को जैसे ही बच्चे के लखनऊ में होने के बारे में सूचना मिली, डिप्टी कमिश्नर फिरोजपुर की तरफ से उनके बेटे को वापस घर लाने के लिए एक गाड़ी रवाना कर दी गई। दो महीने बाद वह अपने बच्चे को वापस पाकर वह बेहद खुश हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
डेराबस्सी में कोरोना का कहर: बेहड़ा में 33 पॉजिटिव, जवाहरपुर पुन: सुर्खियों में सिविल डिफेंस द्वारा रक्तदान शिविर 9 जुलाई को सिविल अस्पताल में पंजाब के 22 में से 18 जिले नशे की चपेट में : सांपला वेरका ने पशु खुराक के दाम 80-100 रुपए प्रति क्विंटल घटाये गांव खेड़ी गुजरां में दूषित पानी पीने से चार भैंसों की मौत का मामला, एसडीएम ने किया मौके का दौरा अस्पतालों का नाम ‘माई दौलतां जच्चा-बच्चा अस्पताल’ रखने का फैसला पंजाब में प्रवेश के लिए ई-रजिस्ट्रेशन हुआ अनिवार्य कोरोना महामारी: जागरूकता के लिए गाड़ीयों में ‘फट्टियाँ’ लगाने की मुहिम डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान: वर्तमान सैशन के सभी कोर्सों के लिए ली जाएंगी परीक्षाएं खजाने में सेंधमारी- फिर भी तरफदारी