ENGLISH HINDI Thursday, July 09, 2020
Follow us on
 
पंजाब

शराब के ग़ैर-कानूनी कारोबार और तस्करी जांच के लिए विशेष जांच टीम के गठन का ऐलान

June 05, 2020 10:06 PM

चण्डीगढ़, फेस2न्यूज:
शराब के ग़ैर-कानूनी कारोबार में शामिल हर व्यक्ति के खि़लाफ़ सख्त कार्यवाही का वायदा करते हुये पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने शुक्रवार को लॉकडाऊन के समय के दौरान शराब की ग़ैर-कानूनी बिक्री और तस्करी की जांच के लिए विशेष जांच टीम (एस.आई.टी.) के गठन का ऐलान किया है।
एक वीडियो प्रैस कॉन्फ्ऱेंस को संबोधन करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि 3 सदस्यीय विशेष जांच टीम का नेतृत्व जल स्रोत मंत्री सुखबिन्दर सिंह सरकारिया करेंगे और टीम की तरफ से इस सभी रैकेट की गहराई से जांच की जायेगी।
एक सवाल के जवाब में सहमति व्यक्त करते कि इतने बड़े स्तर पर शराब की नाजायज बिक्री और अन्य राज्यों से तस्करी कुछ अंदरूनी व्यक्तियों की शमूलियत से बिना संभव नहीं हो सकती, मुख्यमंत्री ने कहा कि विशेष जांच टीम की तरफ से आबकारी विभाग के अधिकारियों की मिलीभुगत समेत सभी तथ्यों का पता लगाने के लिए पूरी बारीकी से जांच की जाऐगी। उन्होंने कहा कि मुख्य दोषियों समेत इस ग़ैर कानूनी कारोबार में शामिल सभी व्यक्तियों की पहचान की जायेगी और उनको गिरफ़्तार किया जायेगा।
कथित बीज घोटाले में सरकारी कर्मचारियों के संभावित सम्मिलन संबंधी टिप्पणी करने के लिए बोले जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले की ए.डी.जी.पी. स्तर के अधिकारी और कृषि विभाग के एक ज्वाइंट डायरैक्टर के नेतृत्व में विशेष जांच टीम द्वारा विस्तार में जांच की जा रही है।
उन्होंने कहा कि पी.ए.यू. ने आज़माइश के आधार पर लगभग 3000 क्विंटल पी.आर. 128 और 129 किस्मों के धान का बीज तैयार किया था, जबकि कुछ कथित डीलरों की तरफ से ओपन मार्केट में किसानों को 30000 क्विंटल बीज बेचा गया था। इससे स्पष्ट संकेत मिलते हैं कि मासूम किसानों को लूटने के लिए इन नयी किस्मों में नकली बीज भी मिलाए गए थे। उन्होंने कहा कि विशेष जांच टीम इस घोटाले की तह तक जाऐगी।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
पहलकदमी : बरनाला में घुटनों की तकलीफ के मरीजों का दूरबीन से इलाज डेराबस्सी में कोरोना का कहर: बेहड़ा में 33 पॉजिटिव, जवाहरपुर पुन: सुर्खियों में सिविल डिफेंस द्वारा रक्तदान शिविर 9 जुलाई को सिविल अस्पताल में पंजाब के 22 में से 18 जिले नशे की चपेट में : सांपला वेरका ने पशु खुराक के दाम 80-100 रुपए प्रति क्विंटल घटाये गांव खेड़ी गुजरां में दूषित पानी पीने से चार भैंसों की मौत का मामला, एसडीएम ने किया मौके का दौरा अस्पतालों का नाम ‘माई दौलतां जच्चा-बच्चा अस्पताल’ रखने का फैसला पंजाब में प्रवेश के लिए ई-रजिस्ट्रेशन हुआ अनिवार्य कोरोना महामारी: जागरूकता के लिए गाड़ीयों में ‘फट्टियाँ’ लगाने की मुहिम डॉक्टरी शिक्षा और अनुसंधान: वर्तमान सैशन के सभी कोर्सों के लिए ली जाएंगी परीक्षाएं