ENGLISH HINDI Monday, July 23, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
पंजाब

सेहत विभाग ने भदौड़ में स्वीट्स शॉप्स पर की दबिश

October 12, 2017 06:32 PM

बरनाला , अखिलेश बंसल/विपन गुप्ता।

दीवाली के सीज़न में किसी परिवार में कोई दुखदायी घटना न हो जाये के मकसद को लेकर सेहत विभाग क्र टीम ने जिला के क़स्बा भदौड़ में मिठायी की दुकानों (स्वीट्स शॉप्स) पर चेकिंग की। अलग अलग दुकानों से विभिन्न मिठाईओं के  सेम्पल भरे। गौर हो कि सेम्पलिंग टीम के आने की खबर पते ही काफी दुकानदारों ने दुकानों के शट्टर फेंक भूमिगत हो गए।

 जिला सेहत विभाग की टीम प्रभारी एवं फूड सेफ्टी अफ़सर गौरव कुमार ने बताया कि सहायक कमिशनर रवीन्द्र गर्ग संगरूर के दिशा निर्देश के अधीन जिला  बरनाला में त्योहारों के मद्देनज़र बिकने वाली मिठायी की दुकानों पर चैकिंग की गई। उन्होंने बताया कि लोगों की सेहत का ध्यान रखते हुए मिठाई विक्रेताओं पर शिकंजा कसने के लिए सरकार की सख्त हिदायतें हैं। ताकि
मिठाई विक्रेता लोगों की सेहत से खिलवाड़ न कर सकें और घटिया किसम की मिठायी बेचने वालों को तुरंत काबू किया जा सके।
फूड सेफ्टी अफ़सर गौरव कुमार ने बताया कि विभाग की टीम की तरफ से अक्तूबर महीने के दौरान मिठाईयों के 28  सैंपल भरे जा चुके हैं. जिनकी जांच के  लिए लैबरटरी में भेज दिया गया है। उन्होंने कहा कि यह चैकिंग लगातार जारी रहेगी जिससे हर आम ख़ास लोगों को गुणवत्ता भरपूर मिठाईयां मिल सकें। दोषी पाए जाने पर किसी भी हलवाई / करियाना मालिक / होटल / रेस्टोरेंट मालिक को बक्शा नहीं जायेगा। 

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
डिस्कोथेक्स पर आखिर क्यों मेहरबान है पुलिस प्रशासन? तम्बाकू छुड़वाने के लिए सहायक सिद्ध हो सकते हैं बच्चे: डा. रुपिन्दर कौर 15 लाख से लगवाए 12 सीसीटीवी कैमरे हैं खराब, ट्रैफिक पुलिस ने एमसी को लिखे 13 लेटर, फिर भी नहीं हुए रिपेयर जीरकपुर में सारी रात दौड़ती रही संदिग्ध नंबर वाली कार, सोई रही पुलिस विदेश ले जाने के नाम पर पादरी ने किया रेप, इंगलैंड भागने की फिराक में दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार जीरकपुर के दशमेश नगर में 20 घंटे गुल रही बत्ती मचा हाहाकार बिजली गुल तो गुल पनाग ने ट्विटर पर बारिश के बावजूद तैनात ट्रैफिक पुलिस कर्मियों की प्रशंसा के पुल बांधे दलित विद्यार्थियों केे पक्ष में छात्र संगठनों ने घेरा डीसी कार्यालय हंडियाया चौक के ऊपर से गुजर रहा नेशनल हाईवे-7 धंसना शुरु किसानों ने डीएपी खाद का प्रयोग 29 प्रतिशत घटाया