ENGLISH HINDI Monday, February 19, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
प्राइवेट बिल्डर ने नाजायज तौर पर सड़क खोदी, सीवरेज जोड़ने की कोशिशसांपला दुबई के दो दिवसीय दौरे पर: दुबई के गुरुद्वारा गुरु नानक दरबार में हुए नतमस्तकहरियाणा, एक आईएएस अधिकारी तथा दो एचसीएस अधिकारियों के स्थानांतरण एवं नियुक्ति आदेश यहां ड्राइव करने वालों के लिए तो रांग ही है राइटचुनाव खर्च का विवरण देने में किया परहेज तो यमुनानगर के 64 उम्मीदवार तीन साल पालिका चुनाव के लिए कर दिए अयोग्यहरियणा और यूपी विश्व शांति, एकता, आपसी सदभाव और समृद्धि के लिए बहुत अहम, सूरजकुंड मेले के समापन पर बोले सोलंकीप्रशिक्षण कार्यशाला में अध्यापकों ने बच्चों के मन की भावनाओं को किया व्यक्तकार्यक्षमता में सुधार करने के लिए समय निर्धारण विषय पर कार्यशाला आयोजित
पंजाब

बरनाला में एक करोड़ की गांजा भरी 35 बोरी समेत पांच तस्कर काबू. 19 जनवरी तक का पुलिस रिमांड

January 15, 2018 05:39 PM

मुख्यारोपी  जरनैल सिंह का बिहार व नार्थ ईस्ट में ट्रांसपोर्ट का कारोबार है। नार्थ ईस्ट के साथ जुड़े त्रिपुरा, बरमा, बंगलादेश मिजोरम, मनीपुर आदि प्रांतों में गांजा का बड़े स्थर पर कारोबार है। जिसका फायदा उठा मुख्यारोपी जरनैल सिंह त्रिपुरा के अगरतला से लाकर एक करोड़ की गांजा से भरी 35 बोरी लुधियाना स्पलाई करने जा रहा था।

 बरनाला, ब्यूरो।
सीआईए स्टाफ बरनाला पुलिस ने महलकलां में नाकाबंदी के दौरान गांजा से भरी 35 बोरी (9 किवंटल 10 किलो) समेत पांच तस्करों को हिरासत में लिया है। एसएसपी हरजीत सिंह ने प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि बरामद गांजा की बाजारी कीमत एक करोड़ रुपए से ज्यादा की है। गिरफ्तार किए पांचों आरोपियों के खिलाफ नशीले पदार्थों की तस्करी करने के जुर्म में पुलिस थाना महलकलां पुलिस में मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों को चीफ जुडीशियल मैजिस्ट्रेट गुरप्रताप सिंह की माननीय अदालत में पेश किया गया। जहां अदालत ने 19 जनवरी तक का पुलिस रिमांड दे दिया है।

 एसएसपी हरजीत सिंह ने बताया कि रविवार को गुप्त सूचना के आधार पर सीआईए स्टाफ बरनाला के प्रभारी एसआई बलजीत सिंह के नेतृत्व में बरनाला-लुधियाना के बीच महलकलां डरेन पर नाकाबंदी की गई थी। वहां से गुजर रहे ट्रक नंबर
एच.आर.-37/सी 6085 को रोका गया था। चेकिंग के दौरान ट्रक में से गांजा से  भरी 35 बोरियां बरामद की गई। जिनका कुल वजन 9 किवंटल 10 किलोग्राम पाया गया। जिसके बाद ट्रक में सवार पांच तस्करों जरनैल सिंह पुत्र अजीत सिंह, रेशम सिंह पुत्र मेला सिंह, कुलविंदर सिंह पुत्र मान सिंह, हरजीत सिंह पुत्र प्रीतम सिंह (चारों बरनाला निवासी) और जालंधर निवासी बलकार सिंह पुत्र गुरभेज सिंह को हिरासत में लिया गया।

उन्होंने बताया कि जांच पड़ताल में पता लगा है कि इस घटना के मुख्यारोपी  जरनैल सिंह का बिहार व नार्थ ईस्ट में ट्रांसपोर्ट का कारोबार है। नार्थ ईस्ट के साथ जुड़े त्रिपुरा, बरमा, बंगलादेश मिजोरम, मनीपुर आदि प्रांतों में गांजा का बड़े स्थर पर कारोबार है। जिसका फायदा उठा मुख्यारोपी जरनैल सिंह त्रिपुरा के अगरतला से लाकर एक करोड़ की गांजा से भरी 35 बोरी
लुधियाना स्पलाई करने जा रहा था। एसएसपी हरजीत सिंह ने यह भी बताया कि  जरनैल सिंह के खिलाफ बिहार के जिला पूरनीया के थाना डगरू में तस्करी का मामला दर्ज है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें
प्राइवेट बिल्डर ने नाजायज तौर पर सड़क खोदी, सीवरेज जोड़ने की कोशिश सांपला दुबई के दो दिवसीय दौरे पर: दुबई के गुरुद्वारा गुरु नानक दरबार में हुए नतमस्तक यहां ड्राइव करने वालों के लिए तो रांग ही है राइट प्रशिक्षण कार्यशाला में अध्यापकों ने बच्चों के मन की भावनाओं को किया व्यक्त राजपुरा से जीरकपुर घर लौट रहे सेंट्रो कार ट्रक में घुसी, मौके पर कार सवार नौजवानों ने तोड़ा दम प्रापर्टी डीलर ने एक प्लाट को 2 अलग-अलग टुकड़ों में बांटा, और फिर एमसी ने कर दिए नक्शे पास.. जीरकपुर : दस्तावेज पूरे तो तीस दिन में नक्शा चकाचक कुकरमुत्तों की तरह डेराबस्सी और जीरकपुर में बनी अवैध कलोनियां एनओसी के बिना रजिस्ट्री पर रोक का निकाला हल पावरकॉम ने बकायेदारों से वसूली के लिए कसी कमर, काटे जाएंगे कनेक्शन कोई भी अपना सकता हैं छतबीड़ जू के जानवर, पौने तीन लाख में हाथी, दो लाख में शेर