ENGLISH HINDI Tuesday, August 21, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
अनिल शर्मा बने फोटोग्राफर एसोसिएशन डेराबसी के प्रधानजीरकपुर खबरनामा: अलग अलग स्थानों से घरों के बाहर खड़ी दो कारे चोरी,बुज़ुर्ग महिला की चेन झपटने की कोशिशपूर्वांचल सांस्कृतिक संघ चण्डीगढ़ की ओर से अखंड अष्टयाम पूजा सम्पन उत्तरी राज्यों के मुख्यमंत्रियों द्वारा नशों संबंधी डाटा सांझा करने, पंचकुला में केंद्रीय सचिवालय स्थापित करने का फैसलामंत्रिमण्डल ने श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक प्रस्ताव पारित कियामुख्यमंत्री का मादक पदार्थों रोकथाम हेतु संयुक्त रणनीति बनाने पर बल11वीं जुनियर पंजाब स्टेट नेटबॉल चेंपियनशिप धूमधाम के साथ संपन्नकर्तव्य पथ पर प्राण न्योछावर करने वाले राजेश कुमार को मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
हरियाणा

सीबीआई ने मानेसर जमीन घोटाले में हुड्डा सहित 34 लोगों के खिलाफ चार्जशीट फाइल की

February 02, 2018 09:17 PM

गुरूग्राम, फेस2न्यूज ब्यूरो:
वर्तमान समय में देश के कई पूर्व मुख्यमंत्री घोटालों के आरोप में जेल में बंद हैं। बिहार के दो पूर्व सीएम लालू यादव और जगन्नाथ मिश्रा और हरियाणा के पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला इस समय घोटालों के आरोपों में सजा काट रहे हैं। अब यह तो स्पष्ट है कि हरियाणा के पूर्व मुख्य्मंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के लिए बुरी खबर आ रही है। सीबीआई ने आज मानेसर जमीन घोटाले मामले में हुड्डा सहित 34 लोगों के खिलाफ पंचकूला स्थित स्पेशल सीबीआई कोर्ट में चार्जशीट फाइल की गई है। इस चार्जशीट में बिल्डरों और दूसरे कई लोगों के नाम भी है।

 
 
 
मानेसर जमीन घोटाले में 12 अप्रैल 2017 को सुप्रीम कोर्ट ने भी निर्णय सुरक्षित रखा हुआ है। उस दिन सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई को जांच रिपोर्ट सब्मिट करने के लिए चार महीने का समय दिया था। अब इस मामले में सीबीआई ने पंचकूला की सीबीआई कोर्ट के स्पेशल जज कपिल राठी को मानेसर मामले में चार्जशीट फाइल कर दी है। जिसमें हुड्डा के अलावा एम.एल. तायल, छतर सिंह, एस एस ढिल्लों, पूर्व डीटीपी जसवंत सहित कई बिल्डरों सहित 34 लोगों के नाम आए हैं।
भाजपा कम्यूनिकेशन सेल के पूर्व नेशनल को—कन्वीनर व भाजपा हरियाण प्रवक्ता रमन मलिक ने कहा है कि हरियाणा के पूर्व मुख्य्मंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को यह स्पष्टीकरण देना चाहिये कि क्या यह उनका अपना गोरख धंधा था या किसी और के लिए वे मुंशी का काम कर रहे थे? नेशनल हैरल्ड भूखंड आवंटन मुद्दा भी आपके ही करनी का प्रताप है। भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने प्रदेश को लूटने की कोई कसर नहीं छोड़ी “लगाओ पेड़ बबूल का तो आम कहाँ से पाओ”
मालूम हो कि किसानों को 27 अगस्त 2004 से 24 अगस्त 2007 के बीच हुड्डा सरकार ने जमीन अधिग्रहण की धमकी देने का आरोप है। हुड्डा सरकार ने IMT मानेसर की स्थापना के लिए 912 एकड़ जमीन के अधिग्रहण का नोटिस किसानों को थमाया। जिसके बाद प्राइवेट बिल्डरों ने किसानों को डराना धमकाना शुरु कर दिया। औने-पौने दामों पर बिल्डर्स ने किसानों से जमीन खरीद ली। 24 अगस्त 2007 को बिल्डरों द्वारा खरीदी गई जमीन को डायरेक्टर इंडस्ट्रीज ने नियमों की अवहेलना कर अधिग्रहण प्रोसेस से रिलीज कर दिया था।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हरियाणा ख़बरें