ENGLISH HINDI Friday, October 18, 2019
Follow us on
 
चंडीगढ़

डर्टीफुल गेम के बीच बने कालिया सिटी ब्यूटीफुल के मेयर

January 18, 2019 08:37 PM

बागी कैंथ भाजपा से निष्कासित,क्रॉस वोटिंग करने वालों पर भी होगी कार्रवाई 

चंडीगढ़, सुनीता शास्त्री

हर वर्ष होने वाले मेयर के चुनाव में इस बार का मेयर चुनाव भाजपा बहुमत वाली सत्ताधारी पार्टी के लिए अहम था। बेशक राजेश कालिया देनदारियों और अपने बस्ता बे के चलते विवादों से घिरे थे, फिर भी भाजपा हाईकमान की चॉइस कालिया रही। इसका प्रबल विरोध भी हुआ और भाजपा के ही कैंथ बागी उम्मीदवार के तौर पर सामने आ गए। आखिर कालिया जीत तो गए परंतु कैथ को भाजपा ने बाहर का रास्ता दिखा दिया।

  राजेश कालिया के नाम की घोषणा के बाद दलित समाज ने ही काफी विरोध प्रकट किया था। फिर भी राजेश कालिया को 16 जबकि उनके प्रतिद्वंदी सतीश कैंथ को 11 वोटा ही मिले। राजेश कालिया पॉच बोटो से विजयी घोषित हुए। बरिष्ठ उपमहापौर अकाली दल के हरदीप सिंह को 20 जबकि कांग्रेस पार्टी की गुरबक्ष्श रावत ने कुल 7 वोट ही मिले। उधर, डिप्टी मेयर के लिए कंवलजीत राणा -भाजपा ने 21 मतों से अपने प्रतिद्वंदी रविन्द्र कौर गुजराल को हराया , कांग्रेस की रविन्द्र कौर को मात्र 6 मत ही प्राप्त हुए। कालिया की उम्मीदवारी को कांग्रेस जिस तरह कुछ खासे होने की अपेक्षा कर रही थी, परंतु पार्टी को मुंह की खानी पड़ी। इसी बीच पार्टी प्रधान संजय टंडन ने कहा कि क्रॉस वोटिंग करने वालों पर भी जांच के बाद पार्टी का अनुशासन भंग करने पर कार्रवाई की जाएगी। अपने पुराने क्रिमिनल रिकॉर्ड के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि अब उनके ऊपर कोई भी क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है।  

मेयर चुनाव जीतते ही राजेश कालिया ने विरोधियों पर जमकर हमला बोला। अब मैं अपने कार्यकाल में विरोध करने वालों के लिए मिसाल बनूंगा।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
करवा सुहाग पर रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन साईं बाबा का महासमाधि दिवस: 48 घंटे का साईं नाम जाप सम्पन्न एमडब्ल्यूआई इंटरनेशनल मिस फोटोजेनिक-2018 ने अपने ब्रांड मैबेल किंग्स एंड क्वीन यूनिसेक्स ब्यूटी सैलून की शुरुआत की शर्मनाक टिप्पणियां कर रहे हैं खट्टर- अक्षय शर्मा, पंजाब प्रधान एनएसयूआई चीफ़ जस्टिस ने जस्टिस श्री पुल्लगोरू को हाई कोर्ट के जज की शपथ दिलाई 25 महिलाओं सहित 178 निरंकारी श्रद्धालुओं ने किया रक्तदान साईं मंदिर के गल्लों में से निकली 13 हज़ार की पुरानी करंसी आने वाला समय आयुर्वेदिक चिकित्सा का : डॉ. नरेश मित्तल भगवान वाल्मीकि के प्रकटोत्सव अवसर पर निकाली शोभायात्रा: दिया प्लास्टिक फ्री इंडिया का सन्देश आरोप प्रत्यारोपों के बीच मसीही समाज उतरा पास्टर के समर्थन में, निकाला प्रार्थना मार्च