ENGLISH HINDI Saturday, August 24, 2019
Follow us on
 
हिमाचल प्रदेश

राहुल गांधी के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा के विरोध में सडक़ों पर उतरे कांग्रेसी, चुनाव आयोग ने सत्ती को थमाया नोटिस

April 16, 2019 06:16 PM

शिमला (विजयेन्दर शर्मा )

हिमाचल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतपाल सत्ती द्वारा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ नालागढ़ के राम शहर में चुनावी रैली में इस्तेमाल किए गए आपत्तिजनक शब्दों को लेकर हिमाचल कांग्रेस मंगलवार को सडक़ों पर उतरी। कांग्रेस ने प्रदेश भर में जगह जगह धरना प्रदर्शन कर सत्ती के पुतले फूंके गए ।

 
 
शिमला में भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती की शव यात्रा निकाली गई व उपायुक्त कार्यालय के बाहर सत्ती का पुतला फूंका गया। उनके पुतले को जूतों से पीटते हुए कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने सत्ती के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। शिमला जिला अध्यक्ष यशवंत छाजटा ने रोष जाहिर करते हुए बताया कि इस तरह की असंवैधानिक भाषा का इस्तेमाल भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती को शोभा नहीं देता है। कांग्रेस ने मामले को लेकर सत्ती के खिलाफ पुलिस में भी शिकायत दर्ज करवा दी है।
वहीं चुनाव आयोग ने सतपाल सत्ती को कारण बताओ नोटिस भी जारी कर दिया है और भाषण में इस्तेमाल की गई असंवैधानिक शब्दों को लेकर 24 घंटों के अंदर जवाब दायर करने के निर्देश दिए हैं।
वहीं, कुल्लू जिला मुख्यालय में जिला कांग्रेस कमेटी व कांग्रेस के सभी फ्रंटल ऑग्रेनाइजेशन ने विधायक सुंदर सिंह ठाकुर की अध्यक्षता में सतपाल सत्ती के खिलाफ रोष रैली निकाल कर विरोध जताया जिसमें शहर के सैंकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सतपाल सत्ती व बीजेपी के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की और ढालपुर चौक में सतपाल सत्ती का पुतला फूंका। प्रदेश प्रवक्ता प्रेम कौशल की अगुअई में हमीरपुर के गांधी चौक पर सत्ती के खिलाफ धरना-प्रदर्शन किया।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता प्रेम कौशल ने कहा कि सामाजिक संस्था राधा स्वामी के लिए भी जिस तरह के शब्द इस्तेमाल किए हैं, वह अषोभनीय हैं। ऊना सदर विधायक सतपाल रायजादा की अगुवाई में कांग्रेस ने प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती के खिलाफ रोष रैली निकाली और सत्ती का पुतला जलाया। लेकिन इस दौरान माहौल उस वक़्त बेहद गरमा गया जब पुतला बुझाते हुए कांग्रेस विधायक और कार्यकर्ताओं की पुलिस के बीच तीखी झड़प हो गई। ये झड़प इस कदर बढ़ गई कि पुलिस और कांग्रेस नेताओं के बीच धक्का मुक्की भी हुई। दरअसल ये पुतला शहर के बीचों बीच एक पेट्रोल पंप के सामने चंडीगढ़ - धर्मशाला रोड़ पर जलाया जा रहा था, जिसकी वजह से एक मामूली असावधानी के कारण कोई भी बड़ा हादसा हो सकता था।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और हिमाचल प्रदेश ख़बरें
चार साल पहले गिरे पुल दोबारा नहीं बने तो ग्रामीणों ने अंदोलन की ठानी हिमाचल के दबंग एसपी को लेकर कांग्रेस के रवैये से लोग हैरान हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र शुरू आर्किमिडीज, न्यूटन और आइंस्टाइन के सिद्धांत को चुनौती उड़ीसा विधान सभा समिति देखेगी 22 को हिमाचल विधानसभा में मानसून सत्र की कार्यवाही बारिश का कहर, 6 जिलों में ये अलर्ट जारी मनाली में अटल की स्मृतियां संजोये गी सरकार प्रदेश में हर्षोल्लास व उत्साह के साथ मनाया गया स्वतंत्रता दिवस छैला-सोलन सड़क बड़े वाहनों के लिए भी खोली गई: भारद्वाज केन्द्र सरकार देश के छः अल्पसंख्यक समुदायों के पिछड़े मेधावियों को देगी छात्रवृत्ति