ENGLISH HINDI Tuesday, June 25, 2019
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
महंगी बिजली मुद्दे पर राज्यपाल को मिलेगा 'आप': अरोड़ाअध्यापकों के ऑनलाइन तबादला नीति अब पब्लिक डोमेन में: सिंगलानहीं रहे स्वतंत्रता सेनानी सुशील रतन, बुधवार को होगा अंतिम संस्कारअपने हृदय सम्राट, पुण्यात्मा, समाज सुधारक स्व: सीताराम जी बागला की पुण्यतिथि पर नतमस्तक हुए क्षेत्रवासीनशाखोरी, ग़ैर-कानूनी तस्करी विरुद्ध 26 को हर जिले में मनाया जायेगा: सिद्धू12 एचसीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण एवं नियुक्ति आदेश जारीजल के समुचित उपयोग से भारत भविष्य की प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रह सकता है: शेखावत नाभा जेल हत्या मामले के सभी पक्षों की जांच के लिए एस.आई.टी. का गठन
चंडीगढ़

हेल्थ वर्कर्स ने मेयर और नगर निगम के खिलाफ खोला मोर्चा: मांगों को लेकर किया विशाल रोष प्रदर्शन

June 10, 2019 08:43 PM

चंडीगढ़: स्वास्थ्य कर्मियों ने अपनी मांगों की अनदेखी के चलते नगर निगम मेयर राजेश कालिया और नगर निगम के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कर्मियों ने मेयर राजेश कालिया और नगर निगम के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए जमकर नारेबाजी की।

  सोमवार को धरने का कृष्ण कुमार चढढा, प्रधान सफाई करमचारी यूनियन, रंजीत हंस, प्रधान, यु टी एस.एस.फेडरेशन,परदीप सूद , प्रधान सफाई  करमचारी यूनियन, जीरकपुर, नसीब जाखड ,प्रधान,इंटक ,राकेश कुमार,को -आरडीनेशन कमेटी,अशोक कुमार ,प्रधान, आल कांटरैकचुअल करमचारी संघ ने समर्थन किया ।

हेल्थ डिपार्टमेंट वर्कर्स यूनियन और सफाई कर्मचारी संघ चंडीगढ़ के बैनर तले सैंकड़ों स्वास्थ्य कर्मियों ने नगर निगम आफिस सेक्टर 17 के सामने धरना प्रदर्शन किया। कर्मियों ने उनकी मांगों की अनदेखी और मेयर राजेश कालिया की कर्मचारी विरोधी नीतियों की जमकर आलोचना की ।

हेल्थ डिपार्टमेंट वर्कर्स यूनियन के प्रेसिडेंट ऋषि दयाल ने बताया कि चंडीगढ़ नगर निगम के अधीन आते स्वास्थ्य विभागों में हजारों कर्मी कार्यरत है। ये सब लायंस सेक्यूरिटी सर्विसेज के अंतर्गत कॉन्ट्रैक्ट पर कार्यरत है। पिछले कुछ समय से लायंस कंपनी द्वारा कर्मियों को परेशान किया जा रहा है। जिसकी शिकायत उन्होंने मेयर राजेश कालिया से भी की थी, लेकिन उन्होंने कर्मियों की शिकायत का निवारण करने की बजाय लायंस कंपनी का साथ दिया। उन्होंने निगम कमिश्नर और निगम आलाधिकारियों से भी इस संबंध में अपनी शिकायत दी, पर वहां भी उनकी सुनवाई नही हुई। जिससे आहत होकर उन्होंने मेयर राजेश कलिया और नगर निगम के खिलाफ मोर्चा खोला है। स्वास्थ्य कर्मी पिछले 10 दिन से अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे है।

सफाई कर्मचारी संघ के प्रेसिडेंट कृष्ण चड्डा ने कहा कि चंडीगढ़ प्रशासन और नगर निगम हमेशा ही कर्मियों के हितों की अनदेखी करता आया है। कर्मियों की मांगों को लेकर प्रशासन और नगर निगम कभी भी सजग नही रहा है।  वही आल कॉन्ट्रक्चुअल कर्मचारी यूनियन के चेयरमैन विपिन शेरसिंह और प्रेसिडेंट अशोक कुमार ने कहा कि अनुबंधित कर्मचारियों की समस्यायों को हल करवाने और उनकी मांगों को लागू करवाने के लिए उनकी यूनियन सदैव प्रयासरत रही है। स्वास्थ्य कर्मियों की मांगों को लेकर भी उनकी यूनियन हेल्थ डिपार्टमेंट वर्कर्स यूनियन के साथ है। उन्हें इंसाफ मिलने तक ये संघर्ष जारी रहेगा।
कर्मचारियों की मांगे 

*डी.सी कम लेबर कमीशनर के निरदेशानुसार महीने की 7 तारीख तक कंपनी दवारा मासिक सैलरी देना *अप्रैल 2018 से बढा हुआ डी.सी रेट व कंपनी दवारा साल भर का बकाया ऐरियर देना*बेकसूर वरकरों दवारा कंपनी के शोषण की आवाज उठाने पर की गई नाजायज बदलियों को रोकना*अपने हकों के लिए लड रही लीडरशिप व साथियों का हो रहा शोषण रोकना ।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और चंडीगढ़ ख़बरें
डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस भाजपा ने श्रद्धांजलि दी डडू माजरा में जानवर जलाने के प्लांट के प्रस्ताव के विरोध में रोष प्रदर्शन, मेयर का पुतला जलाया हम्बल टू बी चंड़ीगढ़ीअन्स-ऐ फेसबुक ग्रुप ने हम्बल हार्ट्स मीट-2 का किया आयोजन गांव दड़ुआ से मक्खनमाजरा को जोडऩे वाली सडक़ पर हाईमास्ट लाइट की स्थापना पत्रकार प्रतिनिधिमंडल ने स्वास्थ्य मंत्री को दिया स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ देने के लिए मैमोरैंडम शूलिनी यूनिवर्सिटी रिसर्च के क्षेत्र में देश में शीर्ष स्थान पर: खोसला चण्डीगढ़ के सैक्टर 17 प्लाजा में तीन-दिवसीय योगा प्रदर्शनी शुरू यूक्रेन व रूस में एमबीबीएस की पढ़ाई के लिए सेमिनार 20 जून को आईएचआरसी ने पौधारोपण अभियान चलाया समर फंक डांस नाइट आयोजित