ENGLISH HINDI Sunday, September 22, 2019
Follow us on
 
पंजाब

बटाला दुर्घटना का असर: अवैध तौर पर पटाखे स्टोर करने पर मामला दर्ज

September 06, 2019 08:25 PM

जीरकपुर, जेएस कलेर
बटाला में अवैध तौर पर चलाई जा रही पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट कारण हुई 23 लोगों की मौत से सबक लेते हुए जीरकपुर पुलिस ने किसी अप्रिय घटना को रोकने को लेकर एक कार्रवाई करते हुए बलटाना क्षेत्र के एक घर में अवैध तौर पर स्टॉक कर रखे पटाखों का जखीरा बरामद कर मकान मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।
जीरकपुर पुलिस को सूचना मिली थी कि एक्सप्लोसिव एक्ट का उल्लंघन कर पटाखों के थोक कारोबारी ने रिहायशी इलाके में अवैध पटाखों का गोदाम बना शहर को बारूद के ढेर पर बिठा दिया है। आज एक गुप्त सूचना के आधार पर गश्त दौरान कार्रवाई करते हुए एएसआई गुरनाम सिंह व हैडकांस्टेबल चमकौर सिंह ने बलटाना की वधावा नगर कलोनी के मकान नंबर 173 में रहते दीपक कुमार पुत्र महिंदर कुमार के घर अवैध तौर पर स्टोर कर कर रखे गए पटाखों की सूचना पर दबिश दी। पुलिस ने दीपक कुमार के घर से बड़ी मात्रा में पटाखे बरामद कर अनधिकृत तौर पर स्टोर करने के तहत धारा 285 व 286 का मामला दर्ज कर आगामी कारवाई शुरू कर दी है।

किसी के पास नहीं एक्सप्लोसिव लाइसेंस

फायर अफसर डेराबस्सी प्रदीप कुमार का कहना है कि शहर में 2 पटाखा स्टोर करने वाले गोदाम हैं लेकिन डीसी मोहाली से इस साल किसका लाइसेंस रिन्यू हुआ है इसकी उनके पास जानकारी नहीं है और न ही अग्निशमन विभाग ओर से किसी को पटाखा स्टोर करने के लिए सर्टिफिकेट दिया गया है।

नियमानुसार पटाखा स्टोर करने वाले गाेदाम रिहायशी क्षेत्र से दूर व उस गोदाम के पास 25 से 30 हजार लीटर क्षमता वाला पानी का टैंक और फुल प्रेशर वाला हाईडेंट सिस्टम लगा होना चाहिए ताकि आगजनी की घटना में पानी से काबू पाया जा सके।

गोदामों की जांच के आदेश दिए

संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं कि शहर में पटाखों से संबंधित गोदामों की जांच की जाए। वहीं मैंने प्रशासन को भी अपील की है कि वह भी अपने स्तर पर शहर में चल रहे अवैध पटाखा गोदामों के खिलाफ कार्रवाई करें और यह सुनिश्चित करें कि संबंधित गोदाम संचालक नियम व शर्तें पूरी करता है कि नहीं। -पूजा सियाल, एसडीएम डेराबस्सी

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और पंजाब ख़बरें