ENGLISH HINDI Saturday, February 22, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
जेलों में सी.सी.टी.वी. कैमरे, करंट वाली तार लगाने व अलग ख़ुफिय़ा विंग सहित कई फ़ैसलों की मंजूरीअंतर्राष्ट्रीय राजनीति का कुत्सित रूप कोरोना वायरससरकारी संस्थानों के साईन बोर्ड, सडक़ों के मील पत्थर पंजाबी में लिखे जाना अनिवार्य: बाजवाआपातकालीन रोगियों के लिए मार्ग उपलब्ध करवाने के लिए स्वीकृतिरिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया (अठावले) ने दूध के पैकेट बांट कर मनाया महा शिवरात्रि का पर्वकैंम्बवाला गौशाला में गौभक्तों ने महाशिवरात्रि पर किया शिवपूजन महाशिवरात्रि पर्व: शिव खेड़ा मंदिर में लगा शिव भक्तों का तांतासेक्टर 24 मार्किट वेलफेयर एसोसिएशन ने लगाया लंगर प्रसाद: चना-पूरी और खीर का भोले भक्तों में बांटा प्रसाद
चंडीगढ़

"एनजीओ-द लास्ट बेंचर्स"-हेल्पिंग द हेल्पलेस ने महिलाओं के लिए लगाया मैमोग्राफी और डेकसा जांच शिविर

October 19, 2019 06:29 PM

चंडीगढ़: शहर को प्लास्टिक मुक्त करने की दिशा में प्रयासरत एनजीओ द लास्ट बेंचर्स-हेल्पिंग द हेल्पलेस ने शहर के लोगों से सिंगल यूज़ प्लास्टिक के इस्तेमाल से दूर रहने की अपील की है। सेक्टर 46 के आशियाना पब्लिक स्कूल में शनिवार एनजीओ द लास्ट बेंचर्स-हेल्पिंग द हेल्पलेस द्वारा लगाए गए मैमोग्राफी एवम डेकसा जांच शिविर के दौरान महिलाओं और जनसाधारण से अपील की गई है। एनजीओ की सदस्यों ने शहरवासियों से इस दिशा में पूर्ण सहयोग की मांग की है। 

जांच शिविर के जरिए लोगों को प्लास्टिक मुक्त शहर बनाने के प्रति किया जा रहा जागरूक 

इस अवसर पर गोल्ड मेडलिस्ट-एमबीबीएस डॉक्टर दीप्ति अरोड़ा मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थीं जबकि आशियाना पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल मोनिका शर्मा बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित हुईं। ये शिविर विशेष तौर पर महिलाओं के लिए आयोजित किया गया था। इस मौके संस्था की महिला सदस्य शशि बाला, दिव्या सिंगला अनिता जिंदल, निकिता, रितु, तारिक और रीटा भी मौजूद थी।

द लास्ट बेंचर्स की प्रेसिडेंट स्मिता कोहली ने बताया कि जांच शिविर में सेक्टर 32 गवर्नमेंट हॉस्पिटल की डॉक्टर टीम ने संचालन किया।

स्कूल प्रिंसिपल मोनिका शर्मा ने एनजीओ की तरफ से किये जा प्रयासों की सराहना की और कहा कि इस प्रकार के जांच शिविर महिलाओं के लिए काफी उपयोगी होते है। कई महिलायें समय अभाव और शर्म के चलते इस प्रकार के टेस्ट नहीं करवा पातीं।

स्मिता कोहली ने बताया कि शिविर का उद्देश्य महिलाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करना है।स्मिता कोहली ने बताया कि जांच शिविर के दौरान लगभग 45 महिलाओं के मैमोग्राफी और डेकसा टेस्ट किये गए। उनकी संस्था की ओर से महिलाओं को विटामिन डी और कैल्शियम की मेडिसिन बांटी जाती है और समय समय पर जांच करवाते रहने और उचित देखभाल की सलाह दी जाती है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया (अठावले) ने दूध के पैकेट बांट कर मनाया महा शिवरात्रि का पर्व मूर्धन्य पत्रकार संतोष कुमार की जयंती पर 'पत्रकारिता वर्तमान संदर्भ में' विषय पर परिचर्चा 25 को परमजीत कला, संस्कृति और खेल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष नियुक्त विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल ने फ़िल्म द हंड्रेड बक्स के खिलाफ किया प्रदर्शन: बैनर और पोस्टर जला कर जताया रोष फिल्म "द हंड्रेड बॉक्स" के खिलाफ वूमेन वॉइस चंडीगढ़ द्वारा जोरदार रोष प्रदर्शन महर्षि दयानंद जन्मोत्सव पर भव्य शोभायात्रा आयोजित चंडीगढ़ युवा काँग्रेस ने पुलवामा हमले के शहीदों को दी श्रद्धांजलि पुलवामा के शहीदों को किया नमन वैलेंटाइन डे नही, शहादत दिवस के रूप में मनाया जाना चाहिए: रविंदर सिंह बिल्ला पंजाब यूनिवर्सिटी को आयनिंग विकिरणों के औद्योगिक और अनुसंधान प्रशिक्षण के लिए चुना गया