ENGLISH HINDI Sunday, June 07, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
जिम खोलने की इजाजत मिले, डेराबस्सी में नॉर्थ इंडिया बॉडी बिल्डिंग एसोसिएशन ने की मांगवजन कम करना सबसे आसान काम है अगर सही तरीके से किया जाए : हनान चौधरीसमाजसेवी सुनील गुप्ता ने "तथास्तु चैरिटेबल ट्रस्ट" को हैंड सेनीटाइजर, मास्क और पौधे बांट कर मनाया पर्यावरण दिवस ट्रांसजेंडर वेलफेयर सोसायटी ने मनाया पर्यावरण दिवसएनजीओ इनविजिबल हैंड्स फाउंडेशन ने गरीबों में बाँटा राशनपंजाब में भी होंगी गुरुकुल शिक्षा केंद्रों की स्थापनाशराब के ग़ैर-कानूनी कारोबार और तस्करी जांच के लिए विशेष जांच टीम के गठन का ऐलानमाह तक 6 एमसीएच अस्पताल कार्यशील कर दिए जाएंगे: सिद्धू
हरियाणा

चिकित्सा और पैरा-मेडिकल स्टाफ को सेवा काल में मिलेगी एक्सटेंशन

March 25, 2020 10:42 PM

चंडीगढ, हरियाणा सरकार ने चिकित्सा और पैरा-मेडिकल स्टाफ तथा अन्य आवश्यक सेवाओं में सेवा प्रदान करने वाले कर्मचारियों, जिनकी सेवानिवृति इस माह है, की सेवाओं को एक्सटेंशन देने का फैसला किया है। इस संबंध में संबंधित प्रशासनिक विभागों द्वारा एक प्रस्ताव सक्षम अधिकारी से अनुमोदन लेने के पश्चात वित्त विभाग को भेजा जाएगा।
यह निर्णय मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनंद अरोड़ा की अध्यक्षता में आयोजित संकट समन्वय समिति की बैठक में लिए गए। मुख्य सचिव ने कहा कि भारत सरकार ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) अधिनियम के तहत कोविड-19 को शामिल करने के लिए दिशानिर्देशों को अधिसूचित किया है और अधिसूचित किए गए दिशानिर्देशों को सभी प्रशासनिक सचिवों और उपायुक्तों को अक्षरक्ष: पालन करने के लिए भी निर्देश दिए गए हैं।

बैठक में बताया गया कि लॉकडाउन अवधि के दौरान सभी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने और डोर टू डोर खुदरा आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों को आवश्यक निर्देश जारी किए गए हैं। आवश्यक वस्तुओं को डोर टू डोर पहुंचाने के लिए खुदरा विक्रेताओं हेतु व्यापक प्रचार भी किए जाएंगे। बैठक में यह बताया गया कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा कि जमीनी स्तर पर तैनात पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों के पास आवश्यक सेवाओं में लगे लोगों और सामानों की आवाजाही के बारे में स्पष्ट निर्देश और प्रोटोकॉल हों, ताकि दूध व सब्जियाँ इत्यादि की आपूर्ति बाधित न हों। इसके अलावा, सरकार और स्वैच्छिक प्रयासों के माध्यम से जरूरतमंदों, गरीब लोगों और झुग्गियों में रहने वाले लोगों को भोजन के पैकेट देना भी सुनिश्चित किया जाएगा।

बैठक में यह सूचित किया गया कि पुलिस महानिदेशक सहित गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, गृह-1 और गृह-2 के सचिव आवश्यक कर्मचारियों, वस्तुओं, सेवाओं के सुचारु आवागमन के लिए वाहनों के पास/ ई-पास आदि के निर्गमन को सुनिश्चित करने के लिए नोडल अधिकारी होंगे। आपातकालीन और आवश्यक सेवाओं के कर्मियों और अन्य अंतरराज्यीय सीमा मुद्दों से संबंधित किसी भी आवागमन संबंधी समस्याओं के लिए पड़ोसी राज्यों के अधिकारियों के साथ समन्वय भी स्थापित करेगें।

बैठक में यह भी बताया गया कि हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड (एचएसएएमबी) के मुख्य प्रशासक सहित कृषि विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, हैफेड के प्रबंध निदेशक, डेयरी फेडरेशन के प्रबंध निदेशक निगरानी करेंगे कि लॉकडाउन अवधि के दौरान राज्य के सभी निवासियों को दूध, दूध उत्पादों, चावल, अनाज, खाद्य तेल, चीनी, सब्जियां, फल और अन्य इसी प्रकार के उत्पादों की निर्बाध आपूर्ति और वितरण सुनिश्चित हो। इसी तरह, खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामले के अतिरिक्त मुख्य सचिव उपायुक्तों के साथ समन्वय स्थापित करके आवश्यक वस्तुओं का समय पर वितरण सुनिश्चित करने के लिए नोडल अधिकारी होंगे। ये सभी नोडल अधिकारी निर्धारित प्रारूप में प्रत्येक दिन सायं 4.00 बजे तक निर्धारित कार्यों की स्थिति के बारे में नियंत्रण कक्ष को रिपोर्ट करेंगे।

बैठक में यह भी बताया गया कि आपदा प्रबंधन नियंत्रण कक्ष (आवश्यक सेवाओं के लिए) और स्वास्थ्य नियंत्रण कक्ष (कोविड-19 मामलों पर नजर रखने और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के लिए) का संचालन किया गया है। सम्पूर्ण राज्य (पंचकूला, गुरूग्राम व फरीदाबाद को छोडकर) के लिए हेल्पलाइन नंबर 1075 और पंचकूला, गुरूग्राम व फरीदाबाद के लिए हैल्पलाईन नंबर 8558893911 संचालित है और इस पर प्राप्त होने वाली जनता की शिकायतों को प्रभावी रूप से निपटाया जा रहा है। इसी प्रकार, पूरे राज्य के लिए जल्द ही हैल्पलाईन नंबर 1100 भी चालू की जाएगी। यह भी बताया गया है कि सभी सतत संचालन उद्योग की सूची शीघ्र ही उद्योग विभाग द्वारा अधिसूचित की जाएगी जिसे कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला पर होने पर इन्हें चालू रखने की आवश्यकता है।

बैठक में राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री धनपत सिंह, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री विजय वर्धन, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पीके दास, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल, विद्युत विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री टीसी गुप्ता, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री टीवीएसएन प्रसाद, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री एसएन राय, चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री आलोक निगम, परिवहन विभाग के प्रधान सचिव श्री अनुराग रस्तोगी, सामान्य प्रशासन विभाग के प्रधान सचिव श्री विजयेंद्र कुमार, कार्मिक, प्रशिक्षण, सतर्कता और संसदीय कार्य विभाग के सचिव श्री नितिन यादव, डीजीपी श्री मनोज यादव, निदेशक, सूचना, जनसंपर्क और भाषा विभाग श्री पी सी मीणा, निदेशक, उद्योग और वाणिज्य डॉ साकेत कुमार, मुख्य प्रशासक, हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड श्री जे गणेशन और निदेशक, चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान श्री दुश्मंत कुमार बेहरा भी उपस्थित थे।
कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिए अधिकारी तैनात हरियाणा सरकार ने कोविड-19 के फैलाव को रोकने के लिए विभिन्न जिलों में की जा रही गतिविधियों की योजना, समन्वय और निगरानी के क्रियान्वयन के लिए विभिन्न अधिकारियों को उनके वर्तमान कार्यभार के अलावा विभिन्न जिलों में तैनात किया है।

शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव महावीर सिंह को भिवानी, विकास एवं पंचायत विभाग के प्रधान सचिव सुधीर राजपाल को पलवल, खान एवं भूविज्ञान विभाग के प्रधान सचिव आनंद मोहन शरण को पंचकूला, सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण विभाग के प्रधान सचिव राजा शेखर वुंडरू को नूंह, श्रम विभाग के प्रधान सचिव विनित गर्ग को करनाल, ग्राम एवं आयोजना विभाग के प्रधान सचिव अपूर्वा कुमार सिंह को सोनीपत, निगरानी एवं समन्वय विभाग की प्रधान सचिव दीप्ति उमाशंकर को अंबाला में नियुक्त किया गया है।

इसी प्रकार, मुख्य चुनाव अधिकारी अनुराग अग्रवाल को यमुनानगर, रोहतक के मंडल आयुक्त को डी सुरेश, पर्यटन विभाग के महानिदेशक राजीव रंजन को फतेहाबाद, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के मुख्य प्रशासक पंकज यादव को चरखी दादरी, हरियाणा बिजली वितरण निगम के प्रबंध निदेशक मोहम्मद शाईन को रेवाडी, उच्चतर शिक्षा विभाग के महानिदेशक अजीत बालाजी जोशी को पानीपत, हरियाणा पर्यटन विकास निगम लि के प्रबंध निदेशक विकास यादव को महेन्दगढ, गुरूग्राम के मंडल आयुक्त अशोक सांगवान को गुरूग्राम, हिसार के मंडल आयुक्त विनय सिंह को हिसार, फरीदाबाद के मंडल आयुक्त संजय जून को फरीदाबाद, वित्त विभाग के विशेष सचिव जगदीप सिंह को सिरसा, परिवहन आयुक्त एसएस फूलिया को कुरूक्षेत्र में नियुक्त किया गया है।

इसी तरह, पुलिस महानिदेशक क्राइम पीके अग्रवाल को कैथल, हरियाणा पुलिस आवास निगम के चेयरमैन कृष्ण कुमार सिंधू को झज्जर और वन विभाग के सचिव डीके सिन्हा को जींद में तैनात किया गया है।

इसके अलावा, पीसीसीएफ एवं सीईओ सीएएमपीए, पचंकूला विनित गर्ग को यमुनानगर, हरियाणा वन विकास निगम के पीसीसीएफ एवं एएमडी पंकज गोयल को जींद और चकबंदी विभाग के निदेशक अशोक कुमार गर्ग को सिरसा में नियुक्त किया गया है। वहीं, सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण विभाग के प्रधान सचिव राजा शेखर वुुंडरू को गुरूग्राम में भी तैनात किया गया है।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
दो ईनामी अपराधियों को किया काबू विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर लाइव वेबिनार का आयोजन विभिन्न कम्पनियों से सेनेटाइजर के 158 नमूने एकत्र किए हरियाणा में सामाजिक दूरी और अंतरराज्यीय बसों और यात्री वाहनों को लेकर एसओपी जारी काम की तलाश में आने वाले मजदूरों के लिए लेबर चौक पर उपायुक्तों को प्रतिनिधि तैनाती के निर्देश हरियाणा: व्यक्तिगत डिस्टेंसिंग की पालना के साथ सभी दुकानें 9 से सायं 7 बजे तक खोलने की स्वीकृति पत्रकारिता व्यक्ति और समाज के बीच एक सशक्त माध्यम: मुख्यमंत्री सैनिक की गर्भवती पत्नी कोरोना पॉजिटिव, अम्बाला के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती चौकसी ब्यूरो ने दिया 7 राजपत्रित व 3 अराजपत्रित अधिकारियों के विरूद्ध जांच सीबीआई से करवाने का सुझाव एक आईएएस अधिकारी स्थानांत्रित