ENGLISH HINDI Thursday, April 02, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
निजी अस्पतालों के डॉक्टरों, नर्सों, पैरामेडिक्स, अन्य कर्मचारियों को भी एक्सग्रेशिया मुआवजे की घोषणाविदेशी हाई-प्रोफाइल कॉल गर्ल्स की नहीं हुई जांचसामाजिक दूरी को बनाए रखने में ई-पास मेकेनिज्म होगा सहायकः मुख्यमंत्रीगैर पंजीकृत प्रवासी मजदूरों को पंजीकृत कर प्रदान किए जाएं पहचान पत्रः राज्यपालकोविड-19 पर जागरूकता फैलाने की पहल, उद्देश्य मिथकों को दूर करने में मदद करना3 व्यक्तियों की गिरफ्तारी से पुलिस ने धारीवाल हत्याकांड मामला सुलझायाकोरोना की एंट्री पर रोक लगाने शहरों व गांवों में बेरीगेटिंग शुरुदिल्ली में भाग लेने वालों में तब्लीगी जमात से संबंधित बरनाला के भी थे दो लोग
पंजाब

बरनाला आईसुलेशन वार्ड में पहुंचे कोरोना के दो अन्य नए संदिग्ध मामले

March 26, 2020 07:37 PM

इससे पहले पहुंचे 12 लोगों की मेडीकल टेस्ट रिपोर्ट पायी जा चुकी है नैगेटिव

अखिलेश बंसल/करन अवतार, बरनाला।

राज्य में विभिन्न धार्मिक स्थलों पर आयोजित हुए होला मोहल्ला समारोहों में भाग लेकर वापस लौटे लोगों का कोरोना वायरस से पीडि़त होने के संदेह में राज्यभर के अस्पतालों में दाखिल होने का सिलसिला लगातार जारी है। जिसके चलते बरनाला के सिवल अस्पताल में वीरवार को दो अन्य केस दाखिल हुए हैं। जिनके के रक्त नमूने लेकर राजिन्दरा अस्पताल पटियाला की लेबारट्री में भेज दिए गए हैं।

 
 
गौरतलब हो कि बरनाला सिविल अस्पताल से संबंधित आईसुलेशन वार्ड में इनसे पहले 12 लोग दाखिल हो चुके हैं। जिनकी रिपोर्ट नेगेटिव पाए जाने के बाद में सभी को वापिस घर भी भेजा जा चुका है।

बुखार होने पर हुए दाखिल-
सिविल अस्पताल के दर्ज रिकार्ड के अनुसार गुरूवार को पहुंचे दो नौजवान पहुंचे। जिनकी उम्र 20 से 22 साल के बीच है। जिनमें से एक नौजवान विधान सभा हलका महलकलां के गांव जंगियाना का रहने वाला है और दूसरा बरनाला के गांव संघेड़ा का रहने वाला है। गांव जंगियाना निवासी नौजवान हजूर साहब में आयोजित हुए होला मोहल्ला में भाग लेकर लौटा था और संघेड़ा निवासी नौजवान श्री आनन्दपुर साहब से लौटा था। दोनों को कुछ दिनों से बुखार हो रहा था।

पहले दाखिल हुए 12 केसों की रिपोर्ट थी नैगेटिव-
एस.एम.ओ. बरनाला डाक्टर ज्योति कौशल का कहना है कि नए दाखिल हुए कोरोना के संदिग्ध नौजवानों के रक्त नमूने लिए गए हैं, जांच के लिए पटियाला के राजिन्दरा अस्पताल की लेबारट्री में भेज दिए गए हैं। उनकी रिपोर्ट आने तक दोनों संदिग्धों को बरनाला में स्थापित किए गए आब्जर्वेशन अधीन आईसुलेशन वार्ड में रखा जाएगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले बरनाला में दाखिल हुए कोरोना वायरस के संदिग्ध लोगों की रिपोर्टें नैगेटिव थी।

आस्था को ही संक्रमित कर दिया वायरस ने-
उल्लेखनीय है कि विदेशों से चलकर पंजाब प्रदेश के अंदर दाखिल हुए कोरोना वायरस (कोविड-19) ने पंजाब को ही नहीं पूरे देश को कई साल पीछे कर दिया है। सैंकड़ों वर्षों से आयोजित होते आ रहे होला मुहल्ले पर्व के प्रति जो आस्था बनी हुई थी उसे इस नामुराद वायरस ने बदनाम कर दिया है। लोगों का घर से बाहर निकलना बंद हो गया है। भले ही सिविल प्रशासन और पुलिस प्रशासन लोगों की जरूरतों को पूरी करने और कानून व्यवस्था ठीक रखने की कोशिश में दौड़धूप कर रहा है परन्तु लोगों के मतदान के बल पर विधायक, सांसद व मंत्री बने राजसी नेतागण तमाशबीन बनकर अपनी कोठियों में बैठे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और पंजाब ख़बरें
3 व्यक्तियों की गिरफ्तारी से पुलिस ने धारीवाल हत्याकांड मामला सुलझाया कोरोना की एंट्री पर रोक लगाने शहरों व गांवों में बेरीगेटिंग शुरु दिल्ली में भाग लेने वालों में तब्लीगी जमात से संबंधित बरनाला के भी थे दो लोग विधायक आवला ने मुख्यमंत्री राहत कोष में अपना दो साल का वेतन दिया चेतावनी: ज़रूरी वस्तुओं की अधिक कीमत वसूलने वालों पर की जाएगी सख्त कार्यवाही सिविल डिफेंस वार्डनों को सीडीआई ने दिए वालंटियरों को तैयार रखने के निर्देश बैसाखी पर सिख संगत को एकत्रित न होने का संदेश देने की श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार से अपील सेवामुक्त होने वाले पुलिसकर्मियों का सेवाकाल 31 मई तक बढ़ाया कोरोना : पहले कैदियों को रिहा किया, अब नशामुक्ति केंद्रों से नशेडिय़ों को भेजा जाएगा घर गड़बड़झाला: दवा के नाम पर प्रशासन की आंखों में धूल झौंक रहे नगर परिषद अधिकारी व ठेकेदार