ENGLISH HINDI Sunday, June 07, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
जिम खोलने की इजाजत मिले, डेराबस्सी में नॉर्थ इंडिया बॉडी बिल्डिंग एसोसिएशन ने की मांगवजन कम करना सबसे आसान काम है अगर सही तरीके से किया जाए : हनान चौधरीसमाजसेवी सुनील गुप्ता ने "तथास्तु चैरिटेबल ट्रस्ट" को हैंड सेनीटाइजर, मास्क और पौधे बांट कर मनाया पर्यावरण दिवस ट्रांसजेंडर वेलफेयर सोसायटी ने मनाया पर्यावरण दिवसएनजीओ इनविजिबल हैंड्स फाउंडेशन ने गरीबों में बाँटा राशनपंजाब में भी होंगी गुरुकुल शिक्षा केंद्रों की स्थापनाशराब के ग़ैर-कानूनी कारोबार और तस्करी जांच के लिए विशेष जांच टीम के गठन का ऐलानमाह तक 6 एमसीएच अस्पताल कार्यशील कर दिए जाएंगे: सिद्धू
हरियाणा

प्रवासी मजदूरों की मूवमेंट के दृष्टिगत सभी अंतर्राज्यीय और अंतर-जिला सीमाएं सील करने के निर्देश

March 29, 2020 10:02 PM
Haryana police in action to seal borders after cm direction

चंडीगढ़, फेस2न्यूज:
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भारी संख्या में प्रवासी मजदूरों की मूवमेंट के दृष्टिगत सभी अंतर्राज्यीय और अंतर-जिला सीमाएं सील करने के निर्देश देते हुए कहा कि जो जहां है, उसे वहीं रोक कर रखा जाए और जाने की अनुमति हरगिज न दी जाए।
मुख्यमंत्री ने आज यहां वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बंधित जिला उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिए कि ऐसे लोगों के लिए वहीं पर रिलीफ़ कैंप स्थापित करके उनके खाने-पीने और रहने की व्यवस्था की जाए और यदि फिर भी कोई जबरदस्ती करता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इन रिलीफ कैंपों के लिए नोडल अधिकारी भी नियुक्त किए जाएं जो इनके खाने-पीने और स्वास्थ्य इत्यादि का ध्यान रखेंगे। इन कैंपों में सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी मुख्य मार्गों के साथ-साथ ऐसे रिलीफ कैंप स्थापित किए जाएं और लोगों को रास्तों पर रहने की अनुमति बिल्कुल नहीं दी जाए। इसके अलावा, जिला स्तर पर कॉल सेंटर भी स्थापित किए जाएं।
श्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आपदा के इस समय के दौरान सहायता के लिए विभिन्न समाजसेवी संस्थाओं को भी जोड़ा जाए। उनके लोगों को जिम्मेदारी देकर उन्हें कार्य करने दिया जाए। उन्होंने कहा कि राधा स्वामी सत्संग समेत अनेक सामाजिक संस्थाओं ने हर तरह की मदद की पेशकश की है, ऐसे में लोगों को रखने के लिए इनके भवनों का उपयोग किया जा सकता है। हर ऐसे आश्रय स्थल पर एक अधिकारी नियुक्त किया जाना चाहिए जो लोगों के खाने-पीने समेत विभिन्न जरूरतों का ध्यान रख सके। हर आश्रय पर सरकार की और से स्वास्थ्य तथा सफ़ाई सुविधा का प्रबंध सरकार की और से होना चाहिए। गर्म भोजन की व्यवस्था जहां तक सम्भव हो किसी स्थानीय गैर-सरकारी संस्था को देनी चाहिये।
इसके अलावा, जो बुजुर्ग या असहाय व्यक्ति अकेले रह रहे हैं, उनका ध्यान रखने की भी व्यवस्था की जानी चाहिए।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और हरियाणा ख़बरें
दो ईनामी अपराधियों को किया काबू विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर लाइव वेबिनार का आयोजन विभिन्न कम्पनियों से सेनेटाइजर के 158 नमूने एकत्र किए हरियाणा में सामाजिक दूरी और अंतरराज्यीय बसों और यात्री वाहनों को लेकर एसओपी जारी काम की तलाश में आने वाले मजदूरों के लिए लेबर चौक पर उपायुक्तों को प्रतिनिधि तैनाती के निर्देश हरियाणा: व्यक्तिगत डिस्टेंसिंग की पालना के साथ सभी दुकानें 9 से सायं 7 बजे तक खोलने की स्वीकृति पत्रकारिता व्यक्ति और समाज के बीच एक सशक्त माध्यम: मुख्यमंत्री सैनिक की गर्भवती पत्नी कोरोना पॉजिटिव, अम्बाला के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती चौकसी ब्यूरो ने दिया 7 राजपत्रित व 3 अराजपत्रित अधिकारियों के विरूद्ध जांच सीबीआई से करवाने का सुझाव एक आईएएस अधिकारी स्थानांत्रित