ENGLISH HINDI Wednesday, August 05, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
वृद्ध महिला को घर से निकालने का मामला: महिला आयोग ने सीनियर पुलिस कप्तान खन्ना से माँगी रिपोर्ट5 सदियों बाद 5 अगस्त को अभिजित मुहूर्त में राम जन्म भूमि पूजन, राम राज्य की ओर अग्रसर भारतकोविड-19 के कारण गिरावट दर 9.26 प्रतिशत रहीपंजाब: मुख्य चुनाव अधिकारी द्वारा डिजिटल माध्यम से स्वीप गतिविधियों की शुरूआतश्री राम जन्मभूमि निर्माण की ख़ुशी में सैंकड़ों दिए जलाकर मनाई दीपावलीपेट्रोल— डीजल के थोक और खुदरा विपणन का अधिकार नियमों को बनाया सरलजनशिकायतों निपटारे के लिए आईआईटी कानपुर तथा प्रशासनिक सुधार और लोकशिकायत विभाग के साथ त्रिपक्षीय कराररूड़की में वेस्ट टू एनर्जी प्लांट लगाए जाने के संबंध में बैठक, 05 सितम्बर तक बिड प्रक्रिया पूर्ण करने के निर्देश
चंडीगढ़

बाबा अंबेडकर के घर पर तोड़फोड़ करने वालों पर कार्रवाई करे सरकार: रामदरबार में किया प्रदर्शन

July 10, 2020 11:24 AM

चंडीगढ़, अनुराधा कपूर                                                                                                            राम दरबार के लोगों ने वीरवार को बाबा अंबेडकर साहब के राजगृह पर असामाजिक तत्वों की ओर से की गई तोड़फोड़ की निंदा की है और मांग की है जल्दी से जल्दी उन लोगों पर इस घिनौनी हरकत के लिए कार्रवाई की मांग की है।  प्रदर्शनकारियों ने कहा, यह बहुत निंदनीय है और असहनीय है- यह बाबा साहब के घर पर हमला नहीं बल्कि एक विचारधारा पर हमला है जिसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। अंबेडकर साहब ने दलितों मजदूरों महिलाओं सबके लिए संविधान में प्रावधान किए हैं उन्होंने कभी किसी जाति धर्म को बांटने का काम नहीं किया।                                                         बाबा साहब हमारे  दलितों के एससी एसटी ओबीसी और महिलाओं के  एक मसीहा हैं  जिन्होंने हमें अधिकार दिलाए जिन्होंने हमें अपनी बात रखने का  मौका दिया शिक्षा का अधिकार दिलवाया  परंतु  आज दूसरी तरफ आज ही केंद्र की सरकार ने सीबीएसई का सिलेबस जारी किया है 9वीं से लेकर 12वीं तक की कक्षाओं में पहले पढ़ाई जाने वाले चैप्टर जोकि बहुत जरूरी हुआ करते थे उन सबको केंद्र की बीजेपी शासित सरकार ने किताबों से हटा दिया है जो कि बहुत जरूरी विषय थे जैसे लोकतंत्र एवं विविधता, लिंग धर्म एवं जाति,चर्चित संघर्ष एवं आंदोलन,लोकतंत्र की चुनौतियां, भारतीय लोकतंत्र की कहानी  वैश्वीकरण एवं सामाजिक बदलाव एवं जनसंचार  वन एवं वन्य जीवन,जनसंख्या  लोकतांत्रिक अधिकार  भारत में खाद्य सुरक्षा आदि चैप्टर को हटा दिया गया है पॉलिटिकल साइंस से नागरिकता,राष्ट्रवाद एवं धर्मनिरपेक्ष भारत में स्थानीय निकाय का विकास  भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान बांग्लादेश नेपाल में म्यांमार सब सिलेबस से हटा दिया इसमें इसके अलावा और भी बहुत महत्वपूर्ण विषय थे जिनको पढ़ाया जाना बहुत जरूरी था उन सब को हटा दिया गया है।  इस प्रदर्शन में शामिल कमलेश बनारसी दास पूर्व महापौर सुंदर बंसल शशी मंजू जी देव, श्री ऊषा सुमन सरोज ललिता कमलेश नमः चंद्रकला आदि लोगों ने भाग लिया।  

 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और चंडीगढ़ ख़बरें
आनलाइन तीज सेलीब्रेशन मेें काम्या शर्मा ने जीता खिताब तथास्तु चैरिटेबल सोसायटी की बच्चों की चार दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न दड़वा में लागू हुआ प्रधानमन्त्री का "घर-घर जल" मिशन, धर्मेंद्र सिंह सैनी ने आभार जताया सावन के आखिरी सोमवार सेक्टर 46 सनातन धर्म मंदिर में उमड़ी भक्तों की भीड़ भाई बहन के प्यार का सर्वश्रेष्ठ बंधन रक्षा बंधन महिलाओं ने ओल्ड ऐज होम में बजुर्गों और पुलिस चौकी में पुलिस कर्मियों को बाँधी राखी राखी के मौके घर में रह कर बनाईं सुंदर राखियां सभी ने मनाई एक साथ ईद तो बन गई मिसाल युगदृष्टा लेखक थे प्रेमचंद, अपनी चेतनता एवं चिंतनशीलता से किया सत्य साबित खस्ता हाल सड़कों को लेकर रोष, शीघ्र मुरम्मत की उठी मांग