ENGLISH HINDI Friday, November 16, 2018
Follow us on
एन. आर. आई.

एनआरआई पति ने लंदन जाकर की दूसरी शादी, न्याय को भटक रही भिवानी की पहली पत्नी

September 27, 2018 05:10 PM
NRI Pankaj with his british wife in London (File Photo)
मुंबई, फेस2न्यूज
एनआरआई युवाओं से शादी करके सबसे अधिक युवतियां पंजाब में परेशान हैं। लेकिन अब इसकी आंच हरियाणा तक भी पहुंच रही है। यहां परिजनों के दबाव या अन्य किसी कारण से शादियां रचाने वाले एनआरआई युवा विदेश जाकर अपनी पत्नियों को भूल जाते हैं और विदेशी धरती पर दुबारा से शादी रचाकर अपनी जिंदगी तो मौज से जीते हैं, लेकिन उनकी पत्नियों को यहां संस्कार का पालन करते हुए सिर्फ इंतजार ही करना पड़ता है। ऐसा ही वाकया हुआ है भिवानी की एक बेटी के साथ, जो न्याय के लिए हर दरवाजा खटखटा रही है।  

*22 नवम्बर 2011 में हुई थी दोनों की भिवानी की जाट धर्मशाला में शादी 
*तीन माह बाद 22 फरवरी 2012 को पति ने लंदन में रचाई दूसरी शादी
*पीडि़ता मदद के लिए सरकारी दफ्तरों के काट रही है चक्कर
*विदेश मंत्रालय से मिला है मदद का भरोसा 
*पीडि़ता नीरज ने बयां किया दर्द

Neeraj Yadav with her husband in Bhiwani during marriage
भिवानी जिला के गांव दिनोद (राधा स्वामी सत्संग-दिनोद का मुख्यालय) निवासी नीरज यादव की शादी 22 नवंबर 2011 को भिवानी जिला के ही गांव रूपगढ़ निवासी पंकज यादव के साथ हुई थी। यह शादी भिवानी शहर की जाट धर्मशाला में धूमधाम से की गई थी। शादी के एक महीने बाद ही 26 दिसम्बर 2011 को उसका पति पंकज यादव वापस विदेश यूके (यूनाइटेड किंगडम) लंदन में बिजनेस के सिलसिले में चला गया। आरोप है कि शादी के ठीक तीन महीने बाद 22 फरवरी 2012 को उसने लंदन में ही खुद को सिंगल यानी अविवाहित बताकर एक बिल्डर केरिझस्टॉफ वटकोवस्का की 17 साल की बेटी ऐवलिना ईवोना वटकोवस्का के साथ शादी कर ली। ऐवलिना ईवोना उस समय छात्रा थी।
लंदन में विवाह की उम्र 16 साल
लंदन में विवाह की उम्र 16 साल तय है, इसलिए 17 साल की लड़की के साथ शादी वहां कानूनी रूप से वैध है। नीरज यादव के साथ शादी के डेढ़ साल बाद भी जब उसका पति पंकज यादव भारत आने को तैयार नहीं हुआ तो उसकी पत्नी नीरज यादव को कुछ शक हुआ। क्योंकि वह बार-बार वीजा नहीं मिलने का बहाना बना रहा था। नीरज यादव ने अपने परिजनों से भी यह बात सांझा की। पीडि़ता नीरज यादव ने अपने पति पंकज यादव के लंदन में रह रहे दोस्तों से फेसबुक पर बात की। तब जाकर पता चला कि पंकज यादव ने वहां पर दूसरी शादी कर ली है। शादी के बारे में अधिकारिक रूप से जानकारी हासिल करने के लिए पीडि़ता श्रीमती नीरज यादव ने लंदन में मैरिज सर्टिफिकेट की कॉपी के लिए आवेदन किया। पंकज यादव और ऐवलिना ईवोना वटकोवस्का का मैरिज सर्टिफिकेट पीडि़ता नीरज यादव ने बड़ी मुश्किल से हासिल किया है।   
एचसीआई ने लंदन में किया गया पासपोर्ट जब्त    
अपने साथ हुए धोखे की शिकायत पंकज यादव की पत्नी श्रीमती नीरज यादव द्वारा भारत से लेकर लंदन तक की गई। उसकी शिकायत पर लंदन में एचसीआई (हाई कमीशन ऑफ इंडिया) की ओर से सितंबर-2017 में पति पंकज यादव का पासपोर्ट जब्त कर लिया गया। श्रीमती नीरज यादव की ओर से पंकज यादव के यूके से भारत में प्रत्यर्पण को लेकर आवेदन भी किया गया।      
नवंबर-2017 में गृह मंत्रालय हुआ सक्रिय
अप्रैल-2017 में विदेश मंत्रालय से भी पीडि़ता श्रीमती नीरज यादव ने मुलाकात की। इसके बाद उसकी शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए नवंबर-2017 में गृह मंत्रालय ने पंकज यादव के प्रत्यर्पण के लिए निर्देश जारी किए।एनआरआई दूल्हे की शिकार पीडित नीरज ने बताया कि उसके पति के  खिलाफ एफआईआर भी दर्ज है, परंतु अभी तक उसे डिपोर्ट करने की प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है; हालांकि उसका पासपोर्ट भी रदद हो चुका है;
पीएनबी में ज्वाइंट अकाउंट खुलवाने में फर्जीवाड़ा 
श्रीमती नीरज यादव का कहना है कि उसके पति पंकज यादव ने विदेश में रहते हुए ही अपने पैतृक गांव रूपगढ़ के निकटवर्ती गांव देवसर में पीएनबी की शाखा में अपनी मां रेखा यादव के साथ ज्वाइंट अकाउंट करवा लिया। नियमन किसी भी तरह का खाता खुलवाने के लिए संबंधित व्यक्ति का होना जरूरी होता है। उसके हस्ताक्षर करवाए जाते हैं। यहां पर तो पंकज यूके से भारत आया भी नहीं और उसका फर्जीवाड़े से खाता भी अपनी मां के साथ ज्वाइंट हो गया। उसके भारत में नहीं आने का प्रमाण विदेश मंत्रालय से मिले सबूतों से मिला है। 
इसलिए कराया ज्वाइंट अकाउंट
पीडि़ता नीरज यादव का कहना है कि पीएनबी में ज्वाइंट अकाउंट इसलिए कराया गया कि पंकज को विदेश में अपने इस खाते में लगातार तीन महीने तक कम से कम एक लाख रुपए जमा दिखाने थे। तब वह इस पैसे को बिजनेस के लिए इस्तेमाल कर सकता था। इन दोनों ही स्थितियों में टीयर-1 एंटरप्रयोनर विजा पंकज यादव लेना चाहता था। इसलिए बैंकिंग का यह कार्य करना जरूरी था। इस मामले में पंकज यादव की मां की ओर से एक शपथ पत्र भी दिया गया। श्रीमती नीरज यादव का कहना है कि बैंकिंग के इस कार्य के लिए उनके जेठ सैकिंड आईआरबी भोंडसी में तैनात एएसआई नीरज कुमार व जेठानी पे्रम यादव उसे 27 जुलाई 2012 को मुंबई से लेकर गांव रूपगढ़ (ससुराल) जिला भिवानी में लेकर आए।  
उन्हें उससे रुपए लेने थे। गांव में उन्होंने नीरज यादव से बैंकिंग के सभी कागजात तैयार करवाए थे।  पीडि़ता का कहना है कि वीजा बनवाने के लिए दो बार में ससुराल वालों ने 13 लाख रुपए लिए। 10 लाख रुपए उसके पति पंकज यादव ने अपने खाते में और तीन लाख रुपए उसकी सास के खाते में ट्रांसफर करवाए गए। उसने काफी मुश्किल से यह पैसा वापस लिया। सबसे बड़ी बात यह है कि उसका पति नीरज यादव वैसे तो लंदन में दूसरी शादी कर चुका था, फिर भी यहां पर उसे पत्नी के तौर पर अधिकारिक रूप से कार्य करवा रहा था। श्रीमती नीरज यादव के ससुर जगदीश चंद्र पटवारी के पद से रिटायर हैं।  
पीएनबी ने नहीं दिया कोई जवाब 
पंकज यादव की पत्नी श्रीमती नीरज यादव का कहना है कि उन्हें जब इस बारे में पता चला तो उन्होंने पंजाब नेशनल बैंक की विजिलेंस में इस विषय में ई-मेल द्वारा 30 अक्टूबर 2017 को शिकायत की। इसके बाद 22 नवंबर 2017 को पीएनबी विजिलेंस पंचकुला में भी ई-मेल से शिकायत भेजी गई। उस शिकायत की स्थिति जानने को दिसंबर-2017 व फरवरी-2018 में संपर्क किया गया, लेकिन पीएनबी ने कोई जवाब नहीं दिया। सिर्फ इतनी ही जानकारी दी कि पंकज यादव के साथ उसकी मां रेखा यादव का खाता ज्वाइंट करवाया गया है।     
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और एन. आर. आई. ख़बरें
खन्ना के दखल पर शिकागो में एनआरआई सिख पर हमला करने वालों पर मामला हुआ दर्ज इराक में आई एस द्वारा बंधक बनाए गये पंजाब से सम्बंधित 39 अप्रवासी भारतियों के मुद्दे पर मोदी चुप्पी तोड़ें : विक्रम जीत सिंह बाजवा गुरदासपुरआयुक्त और एसएसपी को डैनमार्क आधारित एनआरआई की सम्पत्ति को खाली करवाने को यकीनी बनाने के आदेश प्रवासी महिला के खाते से लाखों रूपए निकलवाने पर एडीजीपी क्राईम को जांच के आदेश होटल में ठहरे एनआरआई की मौत पात्र, पन्नू, बैंस ने की मिंटू बराड़ की पुस्तक कैंगरूनामा रिलीज डब्ल्यू.डब्ल्यू.आई.सी.एस. ने एक लाख भारतीयों को बनाया एनआरआई मोहाली के एनआरआई ने लगाया पंजाब के आईजी उमरानंगल पर संगीन आरोप