ENGLISH HINDI Tuesday, August 21, 2018
Follow us on
ताज़ा ख़बरें
अनिल शर्मा बने फोटोग्राफर एसोसिएशन डेराबसी के प्रधानजीरकपुर खबरनामा: अलग अलग स्थानों से घरों के बाहर खड़ी दो कारे चोरी,बुज़ुर्ग महिला की चेन झपटने की कोशिशपूर्वांचल सांस्कृतिक संघ चण्डीगढ़ की ओर से अखंड अष्टयाम पूजा सम्पन उत्तरी राज्यों के मुख्यमंत्रियों द्वारा नशों संबंधी डाटा सांझा करने, पंचकुला में केंद्रीय सचिवालय स्थापित करने का फैसलामंत्रिमण्डल ने श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक प्रस्ताव पारित कियामुख्यमंत्री का मादक पदार्थों रोकथाम हेतु संयुक्त रणनीति बनाने पर बल11वीं जुनियर पंजाब स्टेट नेटबॉल चेंपियनशिप धूमधाम के साथ संपन्नकर्तव्य पथ पर प्राण न्योछावर करने वाले राजेश कुमार को मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
 
 
एस्ट्रोलॉजी
15 अगस्त को नाग पंचमी पर करें कालसर्प दोष से मुक्ति के उपाय

इस वर्ष 2 अगस्त को नागपंचमी राजस्थान व उत्तर प्रदेश के कई क्षेत्रों में मनाई जा चुकी है जबकि पंजाब] हरियाणा वहिमाचल आदि में इसे 15 अगस्त को मनाया जाएगा।सावन महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नाम पंचमी मनाईजाती है। कुछ लोग इस दिन व्रत भी रखते हैं..

शिव और सावन

भगवान शिव को प्रिय सावन का महीना शुरू हो गया है। इस महीने में सोमवार के दिन का तो महत्व होता हीहै। साथ ही इस मास में मंगलावर का भी विशेष महत्व है।ऐसी मान्यता है कि प्रबोधनी एकादशी से सृष्टि के पालन कर्ता भगवान विष्णु सारी जिम्मेदारियों से मुक्त होकर अपने दिव्य भवन पाताललोक में विश्राम करने के निकल लेते है और अपना सारा कार्यभार महादेव को सौंप देते है। भगवान शंकर पार्वती के साथ पृथ्वी लोक पर विराजमान रहकर पृथ्वी वासियों के दुःख दर्द को समझते है एंव उनकी मनोकामनाओं को पूर्ण करते है।पौराणिक ग्रंथों के अनुसार भगवान शंकर ने जो विषपान किया था, वह घटना भी सावन महीने में ही हुई थी।तभी से यह क्रम अनवरत चलता आ रहा है।

104 साल बाद लगेगा 27 व 28 जुलाई की रात्रि सबसे लंबा चंद्र ग्रहण

27 और 28 जुलाई की मध्य रात्रि में लगने वाले चन्द्रग्रहण में करीब 1 घंटे 43 मिनट का खग्रास रहेगा।यह चन्द्रग्रहण शुरू होने से अंत होने तक करीब 4 घंटे का रहेगा। यह चंद्रग्रहण 104 साल बाद बेहद खास है - । यह 21वीं सदी का सबसे लंबा चन्द्रग्रहण होगा। इस चंद्रग्रहण को पूरे भारत में देखा जा सकता है। पूर्ण चंद्र ग्रहण के दौरान चंद्रमा पृथ्वी की छाया के मध्य हिस्से से होकर गुजरेगा। ग्रहण के दौरान चंद्रमा जब पृथ्वी की छाया से होकर गुजरता है तो वह चमकीले नारंगी रंग से लाल रंग का हो जाता है और एक दुर्लभ घटना के तहत गहरे भूरे रंग से और अधिक गहरा हो जाता है। यही कारण है कि पूर्ण चंद्र ग्रहण लगता है और उस समय इसे ब्लड मून कहा जाता है।

कैसे और क्यों मनाएं निर्जला एकादशी, इस साल एकादशी 23 जून को

प्रत्येक वर्ष 24 एकादशियां पड़ती हैं। अधिक मास अर्थात मलमास की अवधि में इनकी संख्या 26 हो जाती हैं। ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहा जाता हैै। परंतु मलमास के कारण इस साल यह एकादशी 23 जून , शनिवार  को पड़ रही है। वास्तव में यह एकादशी शनिवार की प्रातः 3 बजकर 53 मिनट पर आरंभ हो जाएगी और रविवार की सुबह 4 बज कर 55 मिनट तक रहेगी।  यह व्रत एकादशी के सूर्योदय से लेकर अगले दिन के सूर्योदय तक 24 घ्ंटे की अवधि का  माना जाता है।

18 अप्रैल की अक्षय तृतीया इस बार 11 साल बाद अत्याधिक शुभ अष्टमी , नवमी तथा कन्या पूजन कब? क्या दें कन्याओं को शगुन? कैसा रहेगा नव संवत 2075 आप और देश के लिए? जानिए... होेलिका दहन करें वीरवार 1 मार्च और होली खेलें शुक्रवार 2 मार्च को होलाष्टक 23 फरवरी से 1 मार्च, होलिका दहन पहली मार्च और रंगवाली होली 2 मार्च को करें वैलेंटाइन डे का भारतीयकरण प्रेमियों के लिए खास प्रबल योग है इस वेलेंटाइन डे पर..... कैसे और कब मनाएं श्रीमहाशिवरात्रि 13 या 14 फरवरी को ? आज का चंद्रग्रहण खंडग्रास है। यह ब्लू मून कहलायेगा 22 जनवरी को करें ऋतुराज बसंत का स्वागत और करें मां सरस्वती का पूजन माघ मकर संक्रान्ति 14 और 15 जनवरी को, खाएं व बाटें खिचड़ी 13 जनवरी को मनाएं लोहड़ी सायं 6 बजे के बाद रात्रि 11 बजकर 50 मिनट तक नए साल पर करें खरीदारी ,लाएं सुख समृद्धि और करें धन वृद्धि 7 दिसंबर , गुरुवार को पड़ रहा है विशेष संयोग गुरु-पुष्य योग घोड़ी या डोली चढ़ने के दिन रह गए थोड़े आकर्षण का केंद्र बनीं महिला ज्योतिषाचार्यां, लोगों की भीड़ उमड़ी महिलाऐं बताएंगी ज्योतिष से आपका भविष्य और आयुर्वेद के सेहत लाभ, 2 दिवसीय 'क्वींस ऑफ एस्ट्रो एंड हेल्थ' आज से केवल एक महीना ही बचा है विवाहों के लिए 21 अक्तूबर, शनिवार को दीवाली का अंतिम पर्व भाई दूज पड़ रहा है, दोपहर सवा एक के बाद है मुहूर्त 19 अक्तूबर ,वीरवार ,दीवाली पर पूजन के विशेष मुहूर्त , पूजा विधि तथा उपाय पांच शुभ संयोगो से परिपूर्ण 19 साल बाद 17 अक्तूबर को , धन तेरस पर करें जम कर खरीदारी कैसे बढ़ाएं सुख समृद्धि ? अहोई अष्टमी 12 अक्तूबर को, पूजा का मुहूर्त- गुरुवार सायं - 17.50 से 19.05 तक रविवार 8 अक्तूबर को करवा चौथ मनाएं महिला दिवस की तरह विजय दशमी पर किस मुहूर्त में करें पूजा ? नवरातों में दुर्गा स्तुति एवं दुर्गा के 32 नामों का उच्चारण फलदायक: अग्रवाल इस बार पूरे 9 दिन शुभ रहेंगे नवरात्र, 21 सितंबर से शुक्ल पक्ष से आश्विन शरद् नवरात्र आरंभ जीरकपुर में एक दिवसीय ज्योतिष सम्मेलन संपन्न, बाबा राम देव द्वारा ज्योतिषियों को पाखंडी कहने पर उठे सवाल क्यों करें श्राद्ध ?कैसे करें श्राद्ध ?श्राद्ध की तिथियां 25 अगस्त को रखें सिद्धि विनायक व्रत, न करें चंद्र दर्शन 21 अगस्त की रात्रि सूर्य ग्रहण परंतु भारत में नहीं दिखेगा, एक वैज्ञानिक एवं ज्योतिषीय विश्लेषण ज्योतिष के अनुसार 14 अगस्त को ही जन्माष्टमी मनाना रहेगा सार्थक