ENGLISH HINDI Sunday, June 24, 2018
Follow us on
 
 
एस्ट्रोलॉजी
कैसे और क्यों मनाएं निर्जला एकादशी, इस साल एकादशी 23 जून को

प्रत्येक वर्ष 24 एकादशियां पड़ती हैं। अधिक मास अर्थात मलमास की अवधि में इनकी संख्या 26 हो जाती हैं। ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहा जाता हैै। परंतु मलमास के कारण इस साल यह एकादशी 23 जून , शनिवार  को पड़ रही है। वास्तव में यह एकादशी शनिवार की प्रातः 3 बजकर 53 मिनट पर आरंभ हो जाएगी और रविवार की सुबह 4 बज कर 55 मिनट तक रहेगी।  यह व्रत एकादशी के सूर्योदय से लेकर अगले दिन के सूर्योदय तक 24 घ्ंटे की अवधि का  माना जाता है।

अष्टमी , नवमी तथा कन्या पूजन कब? क्या दें कन्याओं को शगुन?

काफी लोगों के मन में अष्टमी, नवमी तथा कन्या पूजन को लेकर असमंजस की स्थिति है जिसका सपष्टीकरण हम यहां दे रहे हैं। 23 मार्च, शुक्रवार को दोपहर 12 बजकर 03 मिनट पर सप्तमी लग जाएगी जो शनिवार की सुबह 10 बजकर 06 मिनट तक रहेगी।

कैसा रहेगा नव संवत 2075 आप और देश के लिए? जानिए...

विक्रम संवत 2075 का प्रारंभ 18 मार्च, रविवार से हो रहा है यानी इस दिन ही हिंदू पंचांग के अनुसार नया साल आरंभ होगा। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार इस संवत्सर का नाम विरोधकृत है। इस साल के राजा सूर्य होंगे और उनके मंत्री शनि महाराज रहेंगे। यानी राजा और मंत्री के विचारों में विरोध बना रहेगा। 

होलाष्टक 23 फरवरी से 1 मार्च, होलिका दहन पहली मार्च और रंगवाली होली 2 मार्च को

भारतीय मुहूर्त विज्ञान व ज्योतिष शास्त्र प्रत्येक कार्य के लिए शुभ मुहूर्तों का शोधन कर उसे करने की अनुमति देता है। कोई भी कार्य यदि शुभ मुहूर्त में कियाजाता है तो वह उत्तम फल प्रदान करने वाला होता है। अर्थात्‌ ऐसा समय जो उस कार्य की पूर्णता के लिए उपयुक्त हो।

करें वैलेंटाइन डे का भारतीयकरण प्रेमियों के लिए खास प्रबल योग है इस वेलेंटाइन डे पर.....

हर वर्ष की तरह 14 फरवरी को आने वाला वेलेंटाइन डे इस वर्ष कई ज्योतिषीय कारणों से और अधिक सशक्त एवं सार्थक रहेगा। शिवरात्रि और वेलेंटाइन संयोगवश साथ साथ और आगे पीछे भी हैं। महादेव के बाद कामदेव । विशेष बात यह है कि इस दिन शुक्र ग्रह , सूर्य के साथ कुंभ राशि में है और चंद्रमा बुध के साथ श्रवण नक्षत्र में है।  ं शुक्र प्रेम का प्रतीक एवं कामदेव के द्योतक है।

कैसे और कब मनाएं श्रीमहाशिवरात्रि 13 या 14 फरवरी को ?

इस बार महाशिवरात्रि का महा पर्व मनाने में तिथि के विषय में ज्योतिषीय मतभेद तथा असमंजस की स्थिति है। चूंकि सरकारी अवकाश 14 तारीख को होने के कारण कुछ स्थानों पर इसे 14 को मनाया जा रहा है और कहीं इसे 13 तारीख को ही मनाने का निर्णय लिया जा चुका है। बहरहाल इसे दोनो दिन भी मनाया जा सकता है।

22 जनवरी को करें ऋतुराज बसंत का स्वागत और करें मां सरस्वती का पूजन

उत्तर भारत में छः ऋतुएं पूरे वर्ष को मौसम के हिसाब से बांटती हैं । हर मौसम का अपना आनंद है। परंतु  पुरानी कहावत है- आया वसंत जाड़ा उड़ंत। यह दिन ऋतु परिवर्तन का परिचायक  भी है। भगवान कृष्ण इस उत्सव के अधिदेवता भी हैं।  

13 जनवरी को मनाएं लोहड़ी सायं 6 बजे के बाद रात्रि 11 बजकर 50 मिनट तक नए साल पर करें खरीदारी ,लाएं सुख समृद्धि और करें धन वृद्धि 7 दिसंबर , गुरुवार को पड़ रहा है विशेष संयोग गुरु-पुष्य योग घोड़ी या डोली चढ़ने के दिन रह गए थोड़े आकर्षण का केंद्र बनीं महिला ज्योतिषाचार्यां, लोगों की भीड़ उमड़ी महिलाऐं बताएंगी ज्योतिष से आपका भविष्य और आयुर्वेद के सेहत लाभ, 2 दिवसीय 'क्वींस ऑफ एस्ट्रो एंड हेल्थ' आज से केवल एक महीना ही बचा है विवाहों के लिए 21 अक्तूबर, शनिवार को दीवाली का अंतिम पर्व भाई दूज पड़ रहा है, दोपहर सवा एक के बाद है मुहूर्त 19 अक्तूबर ,वीरवार ,दीवाली पर पूजन के विशेष मुहूर्त , पूजा विधि तथा उपाय पांच शुभ संयोगो से परिपूर्ण 19 साल बाद 17 अक्तूबर को , धन तेरस पर करें जम कर खरीदारी कैसे बढ़ाएं सुख समृद्धि ? अहोई अष्टमी 12 अक्तूबर को, पूजा का मुहूर्त- गुरुवार सायं - 17.50 से 19.05 तक रविवार 8 अक्तूबर को करवा चौथ मनाएं महिला दिवस की तरह विजय दशमी पर किस मुहूर्त में करें पूजा ? नवरातों में दुर्गा स्तुति एवं दुर्गा के 32 नामों का उच्चारण फलदायक: अग्रवाल इस बार पूरे 9 दिन शुभ रहेंगे नवरात्र, 21 सितंबर से शुक्ल पक्ष से आश्विन शरद् नवरात्र आरंभ जीरकपुर में एक दिवसीय ज्योतिष सम्मेलन संपन्न, बाबा राम देव द्वारा ज्योतिषियों को पाखंडी कहने पर उठे सवाल क्यों करें श्राद्ध ?कैसे करें श्राद्ध ?श्राद्ध की तिथियां 25 अगस्त को रखें सिद्धि विनायक व्रत, न करें चंद्र दर्शन 21 अगस्त की रात्रि सूर्य ग्रहण परंतु भारत में नहीं दिखेगा, एक वैज्ञानिक एवं ज्योतिषीय विश्लेषण ज्योतिष के अनुसार 14 अगस्त को ही जन्माष्टमी मनाना रहेगा सार्थक राखी बांधें 7 अगस्त को प्रातः 11.05 बजे से लेकर दोपहर 1 बज कर 50 मिनट बजे तक चंडीगढ़ और आसपास वर्षा की झड़ी लगेगी 30 जुलाई से, ज्योतिषीय भविष्यवाणी 10 जुलाई व 24 जुलाई से आरंभ होंगे श्रावण में सोमवार के व्रत बेहाल को निहाल , कंगाल को मालामाल करने वाली शनि जयंती 25 मई को होलिका दहन पर करें विशेष उपाय 1857 के 52 शहीदों के स्मृति द्वार का उदघाटन 29 को कैसा रहेगा नया साल आपके और देश के लिए ? अस्त शनि सूर्य के साथ क्या गुल खिलाएगा सरकार और जनता के बीच? क्या नहीं बता सके ज्योतिषी कि 500 और 1000 के नोट बंद होने वाले हैं ? भ्रातृदूज - यम द्वितीया का शुभ मुहूर्त