ENGLISH HINDI Saturday, October 20, 2018
Follow us on
 
 
एस्ट्रोलॉजी
इस बार पूरे 9 दिन शुभ रहेंगे नवरात्र, 10 अक्तूबर से शुक्ल पक्ष से आश्विन शरद् नवरात्र आरंभ, कब और कैसे करें घट स्थापन ?

अक्टूबर महीने में कई बड़े व्रत.त्योहार हैं। जिसमें नवरात्रि दशहरा और करवा चौथ प्रमुख है। पूरे महीने लगभग 20 छोटे और बड़े तीज त्योहार होंगे। पितृ पक्ष के खत्म होने के बाद 10 अक्टूबर से नवरात्रि शुरू हो रहे हैं। नवरात्रि के खत्म होने के बाद दशहरा मनाया जाएगा। उसके बाद करवा चौथ और शरद पूर्णिमा जैसे व्रत और त्योहार भी अक्टूबर महीने में है।

ज्योतिष के अनुसार 2 सितंबर को जन्माष्टमी मनाना रहेगा सार्थक

अधिकतर कृष्ण जन्माष्टमी दो अलग-अलग दिनों पर हो जाती है. जब-जब ऐसा होता है, तब पहले दिन वाली जन्माष्टमी स्मार्त सम्प्रदाय के लोगों के लिए और दूसरे दिन वाली जन्माष्टमी वैष्णव सम्प्रदाय के लोगों के लिए होती है. जो कि इस वर्ष भी 2 दिन पड़ रही है. जिसमें प्रथम दिन अर्थात 2 सितम्बर को स्मार्त की होगी और 3 सितम्बर को वैष्णव संप्रदाय की मनाई जाएगी.

राखी बांधें 26 अगस्त , रविवार को , बहनों को शगुन में भाई दे हेलमट

राखी श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन ही आती है। 25 अगस्त को दोपहर 3 बजकर 16 मिनट से पूर्णिमा तिथि शुरू हो जाएगी जो 26 अगस्त की शाम 5 बजकर 25 मिनट तक रहेगी। इस बार रक्षाबंधन पर कुंभ राशि एवं धनिष्ठा नक्षत्र रहेगा और पंचक प्रारम्भ हो जाएगा लेकिन इसका असर राखी बांधने में कोई नहीं रहेगा। यह पर्व 26 अगस्त 2018 दिन रविवार को मनाया जाएगा।

15 अगस्त को नाग पंचमी पर करें कालसर्प दोष से मुक्ति के उपाय

इस वर्ष 2 अगस्त को नागपंचमी राजस्थान व उत्तर प्रदेश के कई क्षेत्रों में मनाई जा चुकी है जबकि पंजाब] हरियाणा वहिमाचल आदि में इसे 15 अगस्त को मनाया जाएगा।सावन महीने के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नाम पंचमी मनाईजाती है। कुछ लोग इस दिन व्रत भी रखते हैं..

पहली अगस्त से शुक्र होंगे कन्या राशि में एक मास के लिए नीचस्थ यह ग्रहण न दिखेगा दोबारा सावन में करें मंगला गौरी पूजन एवं व्रत भी शिव और सावन 104 साल बाद लगेगा 27 व 28 जुलाई की रात्रि सबसे लंबा चंद्र ग्रहण कब मनाएं सावन के सोमवार ? महीने में तीन ग्रहण क्या किसी बड़े भूकंप की पूर्व सूचना हैं? क्या कहते हैं वैज्ञानिक और ज्योतिषी ? कैसे मनाएं सावन? कैसे और क्यों मनाएं 23 जून को निर्जला एकादशी कैसे और क्यों मनाएं निर्जला एकादशी, इस साल एकादशी 23 जून को मलमास: 16 मई से 13 जून तक बंद बैंड , बाजा और बारात 18 अप्रैल की अक्षय तृतीया इस बार 11 साल बाद अत्याधिक शुभ अष्टमी , नवमी तथा कन्या पूजन कब? क्या दें कन्याओं को शगुन? कैसा रहेगा नव संवत 2075 आप और देश के लिए? जानिए... होेलिका दहन करें वीरवार 1 मार्च और होली खेलें शुक्रवार 2 मार्च को होलाष्टक 23 फरवरी से 1 मार्च, होलिका दहन पहली मार्च और रंगवाली होली 2 मार्च को करें वैलेंटाइन डे का भारतीयकरण प्रेमियों के लिए खास प्रबल योग है इस वेलेंटाइन डे पर..... कैसे और कब मनाएं श्रीमहाशिवरात्रि 13 या 14 फरवरी को ? आज का चंद्रग्रहण खंडग्रास है। यह ब्लू मून कहलायेगा 22 जनवरी को करें ऋतुराज बसंत का स्वागत और करें मां सरस्वती का पूजन माघ मकर संक्रान्ति 14 और 15 जनवरी को, खाएं व बाटें खिचड़ी 13 जनवरी को मनाएं लोहड़ी सायं 6 बजे के बाद रात्रि 11 बजकर 50 मिनट तक नए साल पर करें खरीदारी ,लाएं सुख समृद्धि और करें धन वृद्धि 7 दिसंबर , गुरुवार को पड़ रहा है विशेष संयोग गुरु-पुष्य योग घोड़ी या डोली चढ़ने के दिन रह गए थोड़े आकर्षण का केंद्र बनीं महिला ज्योतिषाचार्यां, लोगों की भीड़ उमड़ी महिलाऐं बताएंगी ज्योतिष से आपका भविष्य और आयुर्वेद के सेहत लाभ, 2 दिवसीय 'क्वींस ऑफ एस्ट्रो एंड हेल्थ' आज से केवल एक महीना ही बचा है विवाहों के लिए 21 अक्तूबर, शनिवार को दीवाली का अंतिम पर्व भाई दूज पड़ रहा है, दोपहर सवा एक के बाद है मुहूर्त 19 अक्तूबर ,वीरवार ,दीवाली पर पूजन के विशेष मुहूर्त , पूजा विधि तथा उपाय