ENGLISH HINDI Monday, June 01, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
हरियाणा: व्यक्तिगत डिस्टेंसिंग की पालना के साथ सभी दुकानें 9 से सायं 7 बजे तक खोलने की स्वीकृतिमॉनसून ऋतु (जून–सितम्बर) की वर्षा दीर्घावधि औसत के 96 से 104 प्रतिशत होने की संभावनासमाजसेवी रविंद्र सिंह बिल्ला और टीम की तरफ से बाँटे जा रहे लंगर का हुआ समापन पंजाब में मैन मार्केट, सैलून, शराब की दुकानों, सपा आदि निर्धारित संचालन विधि की पालना के साथ आज से खुलेकांगड़ा में आए कोरोना पॉजिटिव आठ नए मामलेपीएनबी बैंक का ताला तोड़कर नकाबपोशों ने किया लूटने का प्रयासकांग्रेसी मंत्रियों ने केंद्र द्वारा संघीय ढांचे का गला घोंटने पर बादलों को घेराकोरोना महामारी के बावजूद मानवता भलाई हेतु रक्तदान शिविर का आयोजन
कविताएँ

और बता क्या लिखूं

January 09, 2019 12:58 PM

— रोशन

दर्द लिखूं या गीत लिखूं
मनमौजी मन की प्रीत लिखूं

लिखना पढ़ना मैं क्या जानू
दिल कहता है कुछ नवनीत लिखूं

चहूं ओर मचे घमासान में
आग लिखूं या शीत लिखूं

जाने वाले हमराहियों की
हार लिखूं या जीत लिखूं

हमने जो पाया और खोया
वो जश्न लिखूं या मात लिखूं

बता क्या ओ मेरे मीत लिखूं
नव सृजन करूं या अतीत लिखूं

सज्जा संवरा सवेरा हो या फिर
सांझ की वेला वो व्यथित लिखूं

प्रभु के दिए हुए का जिकर करूं
या पग—पग पर मिले आघात लिखूं

नव पगडंडियों का निर्माण करूं या
वही पुरानी पुरखों की रीत लिखूं

मनमौजी मन की प्रीत लिखूं
हार लिखूं या जीत लिखूं ।

संपादक, फेस2न्यूज

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें