ENGLISH HINDI Wednesday, April 01, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
सेवामुक्त होने वाले पुलिसकर्मियों का सेवाकाल 31 मई तक बढ़ायाकोरोना : पहले कैदियों को रिहा किया, अब नशामुक्ति केंद्रों से नशेडिय़ों को भेजा जाएगा घर14 अप्रैल तक बंद रहेंगे सरकारी कार्यालय और शैक्षणिक संस्थान: मुख्यमंत्रीगड़बड़झाला: दवा के नाम पर प्रशासन की आंखों में धूल झौंक रहे नगर परिषद अधिकारी व ठेकेदारगुरु का लंगर आई हॉस्पिटल ने प्रवासी मजदूरों और गरीब परिवारों में लंगर वितरण कियादिल्ली में गैर-सरकारी संस्थाओं से हिमाचलवासियों की मदद का अनुरेाधहरियाणा में 70,000 लोगों की क्षमता के 467 राहत शिविर स्थापितमरकज की तबलीगी जमात से लौटे नागरिकों की तुरंत दे सूचना: डीसी
कविताएँ

पुलवामा-शहादत ना भूलेंगे

February 16, 2019 05:37 PM

पुलवामा में हमला करके, तुझको लाज नही आई

लिपट तिरंगे में शहीद ने, अमर शहादत हैं पाई।

हिंदुस्तानी हर एक घर से, गर्जना सिंह की आएगी
वीर बाँकुरे सैनिकों की, शहादत न जाया जाएगी।

सीना चौड़ा करके तुझको, फिर से धूल चटा देंगे
एक दिन विश्व पटल से तेरा, नामो निशा मिटा देंगे।

प्यार-प्रेम की भाषा तुझको, बहुत हो गया सिखलाना
धूल चटा देंगे तुझको, होगा तुझको पछताना।

देश की खातिर देकर जान, शहीद का दर्जा पाया है
मेरे जवान को कंधा देने, गृह मंत्री आया है ।

कीड़े-मकोड़े ढूंढ ना पाए, ऐसी मौत तुझे देंगे
नस्ल मिटा देंगे तेरी, गहरी चोट तुझे देंगे ।

भूल गया सर्जिकल स्ट्राइक, घर में घुसकर मारा था
दहाड़ शेर की करके हमने, तुझको ही ललकारा था।

मेरे देश का कोई नौजवां, मौन नहीं अब बैठेगा
घुटनों तले दबा कर तुझको, सीने में गोली ठोकेगा।

चूक हुई है जिस चौकी पर, बक्से ना वो भी जाएंगे
गद्दारों को फांसी देकर, उनको सजा दिलाएंगे।

— अरविंद भारद्वाज

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें