ENGLISH HINDI Tuesday, June 18, 2019
Follow us on
मनोरंजन

ब्लैकिया -फिल्म भारत -पाकिस्तान के बीच खुली सीमा के इतिहास के कुछ पन्नों खोलेगी

April 01, 2019 10:11 PM
चंडीगढ़,सुनीता शास्त्री।
ब्लैकिया फिल्म बनाना एक चुनौती थी। यह उस समय पर आधारित है जब भारत और पाकिस्तान के बीच खुली सीमा थी और सीमा पार बहुत सारे अवैध व्यापार होते थे। उस समय के इतिहास के पन्नो को खोलती नजर आयेगी यह खुलासा करते हुए निर्माता विवेक ओहरी ने बताया। वह आज अपनी पंजाबी फिल्म ब्लैकिया के टेलर  लॉच के लिए अपनी टीम के साथ चंडीगढ़ आये हुए थे।
  
पंजाबी सिनेमा कॉमेडी फिल्मों के साथ वास्तविक सामाजिक-एतिहासिक मुद्दों पर सफल फिल्में बना रहा है, फिल्म निर्माताओं ने हमेशा देव खरौड़ को किसी भी अन्य पंजाबी नायक के ऊपर हमेशा ही प्राथमिकता दी है । चाहे वह रूपिंदर गांधी 1 या 2 या डाकुआं दा मुंडा हो , देव खरौड़ ने हमेशा ही अपने आप को साबित किया है कि जब इस तरह की गहन भुमिकाएं करने की बात हो तो वो फिल्म निर्माताओं की पहली पसंद क्यों होता है।
3 मई को सभी पंजाबी सिनेमा स्क्रीन पर रीलीज के लिए तैयार हैं, देव खरौड की आगामी फिल्म ब्लैकिया है, जिसे  विवेक ओहरी जी ने प्रोडूस जिन्होंने शरीक, जिंदुआ, मेल करादे रब्बा, जिन्हे मेरा दिल लुटिया के अलावा कई और पंजाबी फिल्में बनाई है, अतुल ओहरी भी विवेक ओहरी के साथ इस के निर्माता हैं. सह-निर्माता हैं दीपक बाली, प्रणव कपुर और महेश शर्मा और इस के एसोसिएट निर्माता हैं सरब पल सिंह और अमृत पल सिंह. फिल्म ओहरी प्रोडक्शन के बैनर तले बनी है. फिल्म के निर्देशक हैं सुखमिंदर धंजल।
फिल्म की कहानी, पटकथा को लिखा है इंदरपाल सिंह. देव खड़ौद और इहाना ढिल्लों  के अलावा, राणा जंग बहादुर, आशीष दुग्गल, अर्श हुंदल और संजु सोलंकी भी महत्वपुर्ण भुमिकाओं में दिखाई देंगे। यह फिल्म दुनिया भर में पीटीसी मोशन पिक्चर्स और ग्लोब मूवीज़ द्वारा रिलीज़ की जाएगी। ब्लैकिया का 42 सेकंड का टीजऱ पहले ही जारी किया जा चुका था, उसी का ट्रेलर आज यहाँ रिलीज़ किया गया. ट्रेलर को देखकर कोई भी विश्वास के साथ कह सकता है कि देव खरौड़ ने एक बार फिर से दर्शकों को अपने शानदार अभिनय कौशल के बारे में समझाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है.
अपनी भूमिका के बारे में मीडिया से बात करते हुए, देव ने कहा, यह रोल मेरे जीवन-का एक बहुत हे महत्वपुर्ण है क्योंकि इस फिल्म की कहानी भारतीय इतिहास से संबंधित एक बहुत ही अनोखे विषय पर आधारित है और ऐसा कुछ जो आज हमारे अधिकांश युवा इसके बारे में जागरूक भी नहीं होंगे ।
निर्माता विवेक ओहरी ने कहा, ब्लैकिया जैसे विषय पर फिल्म बनाना हमारे लिए एक चुनौती थी। यह उस समय पर आधारित है जब भारत और पाकिस्तान के बीच खुली सीमा थी और सीमा पार बहुत सारे अवैध व्यापार होते थे। फिल्म की नायिका इहाना ढिल्लों ने कहा,मुझे ऐसी फिल्म में काम करने का सौभाग्य मिला है जो आपकी प्रतिभा को दिखने और व्यक्त करने का भरपूर अवसर प्रदान करती है। पूरी टीम मेरे लिए सहायक थी और ऐसी प्रतिभाशाली टीम के साथ काम करने से मुझे एक अच्छी अभिनेता के रूप में भी बढऩे में मदद मिलेगी।
फिल्म में कुल पांच गाने हैं, जिसके लिए संगीत जयदेव, देसी क्रु, गुरमीत सिंह, केवी सिंह और विनय द्वारा तैयार किया गया है. इस के गीतों को लिखा है गुरबिंदर मान, गिल रोनता और जग्गी जोरकियाँ ने. करमजीत अनमोल, हेमंत संधु, मन्नत नुर और गुलरेज़ अख्तर ने अपनी भावपूर्ण और मधुर आवाज़ों में गीतों को गाया है.
 
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और मनोरंजन ख़बरें
कुछ अलग कंसेप्ट पर आधारित है फिल्म अंग्रेज पुत्त हर तरह के करैक्टर करना चाहता हूं: शाहिद कपूर दिव्‍यांश ने अपना न्‍यूज़ आयेगा के साथ कॉमेडी जोनर में लिया लीप फिल्म प्रोमोशन के लिए "दी हंड्रेड बक्स" की स्टार कास्ट पहुंची चंडीगढ़ कांन्स फ़िल्म फेस्टिवल 2019 के दूसरे दिन भी दीपिका पादुकोण का जादू है कायम! मेरा कोई राजनीतिक स्टैंड नहीं है, लेकिन बतौर फिल्ममेकर लेता हूं स्टैंड: जैगम ईमाम सलमान खान को फिल्म भारत के लिए बुजुर्ग के लुक में ढलने के लिए लगते थे ढ़ाई घंटे दीपिका पादुकोण ने मेट गाला 2019 के रेड कार्पेट पर बिखेरा अपना जादू! नोरा रिचर्ड्स -भारत और आइरलैंड के बीच सांस्कृतिक एकीकरण के युग की शुरुआत होगी भोजपुरी और पंजाबी फिल्मों की तर्ज परहरियाणवी फिल्में बनाना जरूरी: सतीश कौशिक