ENGLISH HINDI Thursday, July 18, 2019
Follow us on
जीवन शैली

मोटापा आजकल की जीवनशैली की देन: गगनदीप आनंद

April 04, 2019 09:19 PM
चण्डीगढ़: अनचाहे मोटापे से परेशान लोगों को वजन कम करने में परामर्श देने के काम में जुटी डाइट क्लिनिक हेल्थ केयर (प्रा.) लि. इस सेगमेंट में भारत की एक अग्रणी डाइट क्लिनिक चेन है। इस चेन का मुख्यालय गुरुग्राम में हैं जिसकी संस्थापक जानी-मानी डायटीशियन शीला सेहरावत हैं। पिछले दिनों उन्होंने चण्डीगढ़ के से. 18 स्थित म. नं.1336 में डाइट क्लिनिक के नाम के अंतर्गत एक नए आउटलेट का शुभारम्भ किया.  

गगन आनंद ने  बताया की उनके यहां ऐसे भी केस आतें हैं जिनमें 16-17 साल के बच्चों का वजन 100 किलोग्राम के आसपास पाया गया। 
उन्होंने इस डाइट क्लिनिक की कार्यपद्धति के बारे में खुलासा करते हुए बताया कि वे ना तो कोई उपवास या डाइटिंग के लिए कहतीं हैं, ना ही कोई दवाई या सर्जरी आदि के लिए और ना ही अधिक कसरत के लिए। 
उनका जोर खानपान की आदतों को सुधारने व कुछ अनुशासित जीवनशैली अपनाने पर रहता है जिससे बेकाबू मोटापे को ठीक किया जाता है। 

गगन आनंद ने  बताया कि मोटापा मुख्यत: आजकल की जीवनशैली की देन है जोकि खानपान व मोबाइल एवं  टीवी से जुडी हुई है। उन्होंने कहा कि खानपान में जंक फ़ूड के बढ़ते चलन व लोगों के टीवी-मोबाइल से चिपके रहने की आदत से मोटापे की समस्या पैदा होती है व यही मोटापा बाद में कई अन्य घातक बीमारियों का कारण बनता है। बच्चे भी बाहर मैदान में जाकर खेलने की बजाये ऑनलाइन गेम्स खेलने में समय लगाते हैं जोकि बेहद ही गलत है।  उन्होंने बताया की उनके यहां ऐसे भी केस आतें हैं जिनमें 16-17 साल के बच्चों का वजन 100 किलोग्राम के आसपास पाया गया। 
उन्होंने इस डाइट क्लिनिक की कार्यपद्धति के बारे में खुलासा करते हुए बताया कि वे ना तो कोई उपवास या डाइटिंग के लिए कहतीं हैं, ना ही कोई दवाई या सर्जरी आदि के लिए और ना ही अधिक कसरत के लिए। 
उनका जोर खानपान की आदतों को सुधारने व कुछ अनुशासित जीवनशैली अपनाने पर रहता है जिससे बेकाबू मोटापे को ठीक किया जाता है। 
उन्होंने कहा कि इसके लिए वे  आपकी रसोई में खाने-पीने का को कुछ भी सामान मौजूद रहता है वे उसी में से डाइट चार्ट तैयार करके देतीं हैं व जागने, सोने व खाने के समय का निर्धारण करती हैं जिससे मोटापे के पीड़ित को आराम पहुँचता है।
इसके तहत वे पोषण कंट्रोल का ध्यान रखते हुए मौसमी खाद्य पदार्थों का अधिकाधिक इस्तेमाल करने को कहतीं हैं।  सुबह 7 बजे से पहले हर हाल में बिस्तर छोड़ कर कुछ व्यायाम या योग व सैर करने की सलाह देतीं हैं। उन्होंने जानकारी दी कि इस प्रक्रिया का पालन करने से एक माह में तीन से चार किलो वजन कम किया जा सकता है।  
मांसाहार के बारे में उन्होंने बताया कि वे इसे खाने से मना नहीं करती हैं बल्कि अधिक तैलीय चिकन की बजाये अन्य आइटम लेने के लिए जोर देतीं हैं मसलन बटर चिकन की बजाये तंदूरी चिकन।  स्थानीय एमसीएम कॉलेज से शिक्षा ग्रहण कर डायटीशियन का प्रोफेशन अपनाने वाली गगन आनंद के मुताबिक़ वे दिन में हर दो घंटे बाद कुछ ना कुछ खाने का परामर्श देतीं हैं।  
कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
और जीवन शैली ख़बरें
शुद्ध शाकाहारी नाइन्टीन्थमे रेस्टोरेंट- अपनी बेटी और अपनी इच्छापूर्ति के लिए खोला:मनोज हर बार नया करना मेरा जॉब :मनीष मल्होत्रा हिमाचल भवन में तीन दिवसीय लाइफ स्टाईल मस्तानी प्रदर्शनी का शुभारम्भ सरताज ने अनोखे अंदाज में पेश किया स्क्रिप्टेड गीत -गुरमुखी का बेटा समर फैशन प्रदर्शनी में डिजाइनर कपड़े व ज्युलरी का कलेक्शन पेश किया चंडीगढ़ में भी मिलेगा इटली का ऑथेंटिक नेपोलितान शुद्ध शाकाहारी पिज़्ज़ा और पास्ता एक्टर बनने का सपना था जो पूरी हो रहा हेै: सोनिया कौर जब महिलाएं होंगीं आर्थिक सक्षम तभी होगा सशक्तिकरण: पूजा अलाहन मिसेज इंडिया पंजाब -2019: विजेता रही सकाडर्न लीडर मिलनप्रीत कौर, भारती गुप्ता बनी क्लासिक मिसिज इंडिया पंजाब टेलेंट स्पाॅट प्रतियोगिता का आयोजन 16 जून कोमोहाली में