ENGLISH HINDI Friday, November 15, 2019
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
अयोध्या राम मंदिर फैसला: राष्ट्रीय हिन्दू शक्ति संगठन ने सुप्रीम कोर्ट फैसले का किया स्वागतचिल्ड्रेंस डे: एनजीओ द लास्ट बेंचर्स ने स्टूडेंट्स को किया सम्मानितमानव मंगल स्मार्ट वर्ल्ड में बाल दिवस समारोहसांसद प्रनीत कौर और बलबीर सिंह सिद्धू ने दयालपुरा गांव में राज्य के पहले आयुश अस्पताल का रखा नींव पत्थरराज्यपाल ने 10 विधायकों को मंत्री व राज्य मंत्री के रूप में शपथ दिलवाईज़ीरकपुर की हवा में प्रदूषण तत्व निश्चित मात्रा की अपेक्षा अधिक, पटाख़ों के साथ बढ़ा शहर का प्रदूषण एन.आर.आई महिला से पैसे लेने के बावजूद दुकानें न देने पर धोखाधड़ी का मामला दर्जहरियाणा पुलिस ने मादक पदार्थों के तस्करों पर की नए सिरे से कार्रवाई , चार काबू
खेल

एशिअन यूथ नेटबॉल चेंपियनशिप मे भारतीय नेटबाल महिला टीम बना सकती थी मेडल टैली मे जगह...... अगर वक्त पर मिल जाता वीजा

July 08, 2019 11:09 PM

जापान/दिल्ली ( अखिलेश बंसल / करण अवतार )-

जापान देश के काशिमा शहर में हुई 11वीं एशिअन यूथ नेटबॉल चेंपियनशिप में भारतीय नेटबॉल की महिला खिलाडिय़ों ने मेजबान टीम समेत तीन देशों को पराजित करने में सफल रही है। गौरतलब हो कि भारतीय नेटबॉल टीम को पहले तीन मैच खेलने में वंचित रहना पड़ा है। कारण है भारतीय नेटबॉल महिला टीम को वीजा देर से मिलना। भारतीय महिला नेटबॉल टीम की कप्तान पल्लवी शर्मा का कहना है कि अगर ठीक वक्त पर वीजा मिल जाता तो भारत की टीम नि:संदेह मेडल टैली मे जगह बना सकती थी। 

पहले तीन मैच खेलने में वंचित रही भारत की नेटबाल खिलाडिय़ों ने मेजबान जापान की टीम समेत तीन देशों को हराया

भारतीय कप्तान पल्लवी शर्मा ने जापान स्टेडियम से बताया कि भारत के खेल मंत्री एवं विदेश मंत्री ने हस्ताक्षेप करके भारत की टीम को जापान पहुंचने में अग्रणी भूमिका अदा की है। भले ही भारतीय नेटबॉल टीम जापान मे देर से पहुंची और तीन मैच जीतने के बाद रैंकिंग में पीछे रही, फिर भी भारतीय नेटबॉल टीम की खिलाडिय़ों ने भारतवर्ष की उम्मीद पर खरे उतरने की कोशिश की है।

उल्लेखनीय है कि एशिअन यूथ नेटबॉल चेंपियनशिप 29 जून को शुरु हुई थी। जिसमें दूसरे दिन 30 जून को भारत का मुकाबला मलेशीया से होना था, 01 जुलाई को चाइनेस तायपेई एवं हांगकांग से होना था। भारतीय टीम ने प्राप्त नतीजों के अनुसार दावा किया है कि इन देशों ने दूसरे देशों के सामने जितना भी स्कोर खड़ा किया वह भारत टीम के मुकाबले कुछ भी नहीं था। उसके बाद क्वार्टर फाइनल, सेमी फाइनल व फाइनल में थाईलैंड, श्री लंका, सिंगापुर, नेपाल जैसे देश भी भारतीय टीम के आगे घुटने टेकने पर विवश हो जाते।

एनएफआई ने दी विजयी टीम को बधाई -
नेटबॉल फैड्रेशन आफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष वागीष पाठक तथा राष्ट्रीय महासचिव हरि ओम कौशिक और स्पोर्टस किटस शोरूम स्पार्टन के मालिक यशपाल जालंधर ने संघर्ष के बाद तीन देशों को शिकस्त करने वाली भारतीय नेटबॉल महिला टीम का हौंसला बढ़ाया है। इसके साथ ही चेंपियन बनी मलेशीया, द्वितीय रही हांगकांग व तृतीय रही श्री लंका की टीम व आयोजकों को बधाई दी है।

यह मैच खेलने से वंचित रहा भारत-
भारत / हॉंग-कॉंग
भारत / मलेशीया
भारत / चाइनेस तायपेई

तीन मैच खेले तीनों में जीत-
देश/देश गोल स्कोर विजयी
भारत / जापान 65-58 भारत
भारत / बुरुनई 60-45 भारत
भारत / कोरीया 99-15 भारत

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और खेल ख़बरें
तंदरुस्त पंजाब: जेल में कैदियों व हवालातियों के बीच करवाए वालीबॉल तथा कबड्डी के मैच दिल्ली में 32वीं जूनियर नेश्नल नेटबॉल चेंपिअनशिप का शानदार आगाज़, पंजाब की टीम ने उड़ीसा की टीम को 33-7 के अन्तर से पराजित किया शारीरिक तंदुरुस्ती और आत्मरक्षा के लिए गतके की अहम भूमिका : केके यादव माईसरखाना में 16वीं सीनियर स्टेट नैटबॉल चैंपिअनशिप का शानदार अगाज़ कबड्डी व हॉकी खिलाडिय़ों के ट्रायल 22 व 26 अक्तूबर को 65वीं इंटरडिस्ट्रिक स्कूल (नैटबॉल) गेमज़ 2019-20' का आग़ाज़ मुख्यमंत्री के नैटबॉल की ग्रेडेशन बहाल करने पर खिलाडिय़ों में ख़ुशी दशमेश खालसा कॉलेज के छात्रों ने कुश्ती में लहराया परचम वॉलीबाल: पुरुष —महिला वर्ग में केरल और महाराष्ट्र द्वारा जीत दर्ज वॉलीबॉल मुकाबले अमृतसर में शुरू