ENGLISH HINDI Wednesday, July 08, 2020
Follow us on
 
खेल

शहीदी जोड़ मेले के अवसर पर पंजाब और हिमाचल के साबत-सूरत खिलाडिय़ों का फुटबाल मैच 28 दिसंबर को

December 03, 2019 09:28 PM

फ़तेहगढ़ साहिब:सिख नौजवानों को केसाधारी के तौर पर पहचान बनाए रखने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य के अंतर्गत खालसा फुटबाल क्लब (ख़ालसा एफसी) और ग्लोबल सिख स्पोर्टस फेडरेशन की तरफ से पंजाब में पहला ‘सिख फुटबाल कप’ 30 जनवरी से पंजाब के सभी जिलों में करवाया जा रहा है। फीफा के नियमों के अंतर्गत होने वाले इस टूर्नामैंट की कड़ी के तौर पर शहीदी जोड़ मेले के अवसर पर फ़तेहगढ़ साहिब में भी साबत-सूरत खिलाडिय़ों का फुटबाल मुकाबला 28 दिसंबर को माता गुजरी कॉलेज के खेल मैदान में होगा।

इस सम्बन्धी फ़ैसला आज यहाँ गुरुद्वारा फ़तेहगढ़ साहिब में ख़ालसा एफसी के प्रधान हरजीत सिंह गरेवाल और शिरोमणी कमेटी मैंबर जत्थेदार करनैल सिंह पंजोली की हाजिऱी में क्लब के अधिकारियों की हुई विशेष मीटिंग के दौरान किया गया जिसमें पूर्व चेयरमैन इन्द्रजीत सिंह संधू, क्लब के संयुक्त सचिव गुरबंस सिंह, जि़ला कोऑर्डीनेटर जगदेव सिंह, फुटबाल प्रशिक्षक अमरजीत सिंह कोहली और बहादर सिंह भी उपस्थित थे।

खालसा एफसी के प्रधान हरजीत सिंह गरेवाल ने बताया कि श्री गुरु नानक साहिब के 550वें प्रकाश पर्व को समर्पित यह अंंतर-जि़ला टूर्नामैंट नॉक-आउट विधि के आधार पर खेला जायेगा जिसमें पंजाब और चण्डीगढ़ के 23 जिलों के साबत-सूरत खिलाड़ी भाग लेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि अलग -अलग जिलों में होने वाले सभी फुटबाल मैचों के दौरान सिख जंगजू कला गत्तके की प्रदर्शनी भी होगी।

गरेवाल ने बताया कि पंजाब फुटबाल एसोसिएशन के साथ जुड़े खालसा एफसी को जि़ला स्तरीय फुटबाल टीमों के चयन ट्रायलों के अवसर पर भारी समर्थन मिला है जिसमें विभिन्न जिलों से करीब 2200 केसाधारी बच्चों ने भाग लिया।

मीटिंग को संबोधित करते हुए जत्थेदार पंजोली ने खालसा एफसी की तरफ से साबत-सूरत खिलाडिय़ों के फुटबाल टूर्नामैंट करवाने की सराहना करते हुए कहा कि नौजवानों में रैहत और सिखी भावना पैदा करने के लिए साहिबज़ादों के पवित्र स्थान पर खेल के द्वारा ऐसी पहलकदमी रचनात्मक उद्यम है जिसके लिए शिरोमणी गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी प्रबंधकों को पूरा सहयोग देगी। उन्होंने कहा कि इस टूर्नामैंट का उद्घाटन शिरोमणी कमेटी के प्रधान जत्थेदार गोबिन्द सिंह लोंगोवाल करेंगे जबकि टूर्नामैंट की सफलता की अरदास श्री अकाल तख्त साहिब के जथेदार सिंह साहिब ज्ञानी हरप्रीत सिंह जी करेंगे।

इस मौके पर गुरुद्वारा फ़तेहगढ़ साहिब के मुख्य ग्रंथी ज्ञानी हरपाल सिंह ने नौजवानों की केसाधारी टीमें तैयार करके खेल करवाने के लिए खालसा एफसी के प्रधान हरजीत सिंह गरेवाल को सिरोपा के साथ सम्मानित किया। मीटिंग में दूसरों के अलावा नगर कौंसिल के प्रधान शेर सिंह, लखवीर सिंह पूर्व चेयरमैन, नरिन्दर सिंह रसीदपुरा, मार्केट कमेटी बस्सी के पूर्व चेयरमैन लखवीर सिंह बांबला, जत्थे: कुलवंत सिंह खरौड़ा, हरप्रीत सिंह गिल, जैतशाहूदीप सिंह गरेवाल, हरीश धुप्पड़ सहित बड़ी संख्या में शख्सियतें उपस्थित थीं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और खेल ख़बरें
भारत-अफ्रीका मैच: मैच से एक दिन पहले धर्मशाला में मूसलाधार बारिश होला-मोहल्ला गत्तका मुकाबलों में खालसा गत्तका अकैडमी हरियाणा विजेता ‘फुटबाल की नर्सरी’ को इस साल नसीब हो जाएगा स्टेडियम एथलैटिक्स चैंपियनशिप में भाग लेगी पंजाब की टीम, चयन ट्रायल 28 फरवरी को 8वीं मिस्टर चंडीगढ़ चैम्पियनशिप 23 फरवरी को , एस. डी. कालेज सैक्टर 32 मे होगा आयोजन 37वीं सीनियर नेश्नल नैटबॉल चैंपिअनशिप : पुरुष वर्ग ने दूसरा स्थान और महिला वर्ग ने हासिल किया तीसरा स्थान हरियाणा बना नैटबॉल चैंपिअन: दूसरे स्थान पर रहीं पुरुष वर्ग में पंजाब और दिल्ली की टीमों को मिली सिल्वर ट्राफी अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज़ सिमरनजीत कौर की माँ को 1.50 लाख के चैक की भेंट नेटबॉल टीमों के खिलाडिय़ों ने प्रतिद्ंद्धी टीम को हराने के लिए मिजाइलों की तरह फेंके गोल श्री आनंदपुर साहिब की धरती पर चार दिवसीय 37वीं सीनियर नेश्नल नैटबॉल चैंपिअनशिप का शानोशौकत से आगाज