ENGLISH HINDI Saturday, January 25, 2020
Follow us on
 
ताज़ा ख़बरें
द लास्ट बेंचर्स "और अमृत कैंसर फाउंडेशन ने महिलाओं के लिए लगाया मैमोग्राफी, डेकसा और डेंटल जांच शिविर26 को वाईस ऑफ़ इंडिया नागरिकता संशोधन एक्ट के समर्थन पर विशाल पद यात्रा कैंसर की चपेट में गांव बडबर, 6 से अधिक लोगों की हो चुकी मौतवाल्मीकि समाज ने नगर निगम कमिश्नर और पूर्व मेयर राजेश कालिया का पुतला फूंकाअवैध माइनिंग के खिलाफ हरकत में आया प्रशासन, मुबारिकपुर घग्गर नदी पर बनाए अवैध पुल को तोड़ागणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में आयकर विभाग ने लगाया रक्तदान शिविर, 108 रक्त यूनिट एकत्रितजुडो चैंपियनशिप में आर्यन ने जीता गोल्ड, प्रिंस ने रजत व अंजू ने कांस्य हासिल कियापंजाब की सर्वदलीय बैठक के बयान का कोई औचित्य नहीं: मुख्यमंत्री
एस्ट्रोलॉजी

समस्या और समाधान

February 17, 2019 05:18 PM

- मदन गुप्ता सपाटू, ज्योतिर्विद् ,चंडीगढ़, 9815619620

  नौकरी में बहुत परेशानी आ रही है। कोई सरल उपाय बताएं।
- मीनू शर्मा, खरड़।
एक नीम्बू को चार भागों में काटकर शाम के समय किसी सुनसान चौराहे पर जाकर चारों दिशाओं में एक—एक करके फेंक दे और बिना मुड़े वापिस घर आ जाएं। इस प्रयोग को आप महीने के शुक्ल पक्ष में किसी भी दिन शुरू करके लगातार 7 दिनों तक करें। यह एक परीक्षित उपाय है, इस से नौकरी में आने सभी अड़चने दूर होने लगती है और वृद्धि भी होने लगती है।

- किसी ने पैसा लिया था, परतु वापस नहीं कर रहा। घन रुकता भी नहीं।
- गुरुमुख, मोहाली।
पीपल के सात पत्ते लेकर रौली से ऊँ लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं। ऊपर से गंगा जल चढ़ाएं। ऊँ नम शम्भवायष् सात बार बोलें।
फर्श व दीवारों पर बच्चे अक्सर पेंसिल से लाइने खींच देते हैं। व्यर्थ के आलेखन नहीं बनाने चाहिए। कलेश व कर्जा बढ़ता है। हो सके तो दीवार पर खींची लाइने व अन्य धब्बे आदि मिटाने चाहिए। लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी। अपने घर में पवित्र नदियों का जल संग्रह कर के रखना चाहिए। इसे घर के ईशान कोण में रखने से अधिक लाभ होता है।

कोई दूर जाकर मेरे जीवन में वापस लौट आया है। पर अब मेरी शादी हो गई है। मुझे क्या करना चाहिए। 

जन्म तिथि-12.12.1986. जन्म समय- 14-28, जन्म स्थान, रोहतक, कमला दहिया
आपके सप्तम भाव का स्वामी शुक्र सप्तम में ही बैठ कर जहां दांपत्य जीवन में सतर्क रहने का संकेत दे रहा है, वहीं प्रेम भाव का मालिक यानी पंचमेश सूर्य अष्टम में शत्रु शनि के साथ विराज कर प्रेम संबंधों के लिए चुनौतियां प्रस्तुत कर रहा है। पहले और अब की परिस्थितियों में जमीन आसमान का फर्क है। ग्रह योग आपको इस संबंध से लाभ का नहीं, हानि का संकेत दे रहे हैं।

कुछ कहना है? अपनी टिप्पणी पोस्ट करें
 
और एस्ट्रोलॉजी ख़बरें